मुंबई : 1990 के दशक की फिल्म स्टार उर्मिला मातोंडकर लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं लेकिन उनका कहना है कि वह स्टार के तौर पर राजनीति में नहीं आई हैं और लोगों के प्रतिनिधि के तौर पर पहचान बनाना पसंद करेंगी। उर्मिला ने साक्षात्कार में कहा, "मैं स्टार की छवि के साथ यह सब नहीं कर रही हूं। मैं जमीनी स्तर पर लोगों से जुड़ने का प्रयास कर रही हूं। मुझे पता है कि यह कठिन है।''

उर्मिला मातोंडकर।
उर्मिला मातोंडकर।

उन्होंने कहा, "मैं जनप्रतिनिधि के तौर पर उनमें अपने प्रति विश्वास जगाना चाहती हूं न कि किसी अन्य स्टार की भांति हाथ हिलाकर केवल वोट मांगना चाहती हूं। क्योंकि इन विचारों के साथ मैं राजनीति में नहीं आई हूं।'' यह पूछने पर कि वह लोकप्रिय चेहरा हैं और वोट मांगने के लिए क्या बॉलीवुड की अन्य हस्तियां उनके साथ आएंगी तो उन्होंने तुरंत जवाब दिया, "मैं दूसरों के बारे में बात नहीं कर सकती, यह उचित नहीं है।''

इसे भी पढ़ें

लोकसभा चुनाव : उर्मिला मातोंडकर ने बताई अपनी संपत्ति, जानिए कितने करोड़ की हैं मालकिन

वह मुंबई उत्तर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं जहां से कभी गोविंदा भी सांसद रहे हैं। चुनाव प्रचार में स्थानीय लोगों से मुलाकात कर रही उर्मिला का कहना है कि इलाके के मुख्य मुद्दे हैं आवास, पानी की कमी और साफ-सफाई। उर्मिला का मुकाबला भाजपा नेता गोपाल शेट्टी से है।