Wed Aug 21, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
ये राजनीतिक बदले की कार्रवाई: कार्ति चिदंबरम
दिल्ली: पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया
  दिल्ली: सीबीआई ने पी चिदंबरम को हिरासत में लिया  
  दिल्ली: सीबीआई की टीम कांग्रेस दफ्तर से निकलकर चिदंबरम के घर के लिए रवाना  
पी. चिदंबरम के मीडिया के सामने आते ही कांग्रेस मुख्यालय की ओर रवाना हुई सीबीआई की टीम 

संपादक की पसंद

मनुबेन की डायरी से खुले राज, विवाद में भी रहे हैं बापू
संपादक की पसंद

मनुबेन की डायरी से खुले राज, विवाद में भी रहे हैं बापू

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन से जुड़े ज्यादातर पहलू किसी न किसा माध्यम से लोगों के सामने है। बावजूद इसके बापू की जिंदगी का एक हिस्सा आज भी सिर्फ एक डायरी तक सीमित है, वो है बापू के ब्रह्मचर्य प्रयोग। बापू के ब्रह्मचर्य प्रयोग से जुड़ी तमाम भ्रांतिया समाज में है। लेकिन इस डायरी ने उन तमाम राज से पर्दा उठा दिया, जो अब तक कोई नहीं जानता था।

पक्षियों के आरामगाह खातिर ग्रामीणों ने दे दी 143 एकड़ जमीन, यह है वजह 
संपादक की पसंद

पक्षियों के आरामगाह खातिर ग्रामीणों ने दे दी 143 एकड़ जमीन, यह है वजह 

बिहार में कटिहार जिले के मनिहारी प्रखंड के ग्रामीणों ने पक्षीप्रेम की अनूठी मिसाल पेश करते हुए अपनी 143 एकड़ जमीन पक्षियों के आरामगाह बनाने के लिए दे दी। ग्रामीणों की इस पहल पर वन विभाग और जिला प्रशासन द्वारा भेजे गए प्रस्ताव पर राज्य सरकार ने मुहर लगा दी है।

कृष्ण जन्मभूमि में ऐसे मनाई जाती है जन्माष्टमी, कान्हा की भक्ति में रंग जाता है मथुरा-वृंदावन  
संपादक की पसंद

कृष्ण जन्मभूमि में ऐसे मनाई जाती है जन्माष्टमी, कान्हा की भक्ति में रंग जाता है मथुरा-वृंदावन  

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मथुरा नगरी भक्ति के रंगों से सराबोर हो उठती है। भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव का दिन कृष्ण जन्मभूमि सहित पूरे देश में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है।कृष्ण जन्मभूमि पर देश-विदेश से लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती हें ।

हलषष्ठी व्रत की पूजा के बाद जरूर सुनें ये कथा, मिलेगा शुभ फल  
संपादक की पसंद

हलषष्ठी व्रत की पूजा के बाद जरूर सुनें ये कथा, मिलेगा शुभ फल  

हलषष्ठी का व्रत महिलाएं संतान की दीर्घायु के लिए पूरे विधि-विधान से करती हैं। पूजा के बाद उससे जुड़ी पौराणिक कथा सुनने का बड़ा महत्व होता है। तो आप भी हलषष्ठी की पूजा के बाद ये पौराणिक कथा अवश्य सुनें। इससे आपको पूजा व व्रत का पूरा फल मिलेगा।

संतान की दीर्घायु के लिए किया जाता है हलषष्ठी व्रत, जानें इसका महत्व व पूजा विधि  
संपादक की पसंद

संतान की दीर्घायु के लिए किया जाता है हलषष्ठी व्रत, जानें इसका महत्व व पूजा विधि  

भादो महीने के कृष्ण पक्ष की षष्ठी को हल षष्ठी व्रत किया जाता है। यह पर्व भगवान श्रीकृष्ण के ज्येष्ठ भ्राता श्री बलरामजी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। श्री बलरामजी का प्रधान शस्त्र हल तथा मूसल है। इसी कारण उन्हें हलधर भी कहा जाता है। उन्हीं के नाम पर इस पर्व का नाम ‘हलषष्ठी या हरछठ’ पड़ा। इस साल यह व्रत 21 अगस्त बुधवार को किया जाएगा।

राजीव गांधी को लेकर सच हुई थी स्वामीजी की भविष्यवाणी, जानिए क्या हुआ था ऐसा !
संपादक की पसंद

राजीव गांधी को लेकर सच हुई थी स्वामीजी की भविष्यवाणी, जानिए क्या हुआ था ऐसा !

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज 75वीं जयंती है। इस मौके पर पूरा देश उन्हें याद कर रहा है। राजीव गांधी के समाधिस्थल वीरभूमि पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने श्रद्धांजलि दी. पीएम मोदी ने भी ट्विटर पर राजीव गांधी को श्रद्धांजलि दी।

जन्माष्टमी 2019 : आखिर क्यों श्री कृष्ण ने पी लिया था राधा का चरणामृत, जानें इससे जुड़ी पौराणिक कथा 
संपादक की पसंद

जन्माष्टमी 2019 : आखिर क्यों श्री कृष्ण ने पी लिया था राधा का चरणामृत, जानें इससे जुड़ी पौराणिक कथा 

भगवान श्री कृष्ण की जयंती यानी जन्माष्टमी आने ही वाली है। श्री कृष्ण अपने भक्तों को अपने ही जीवन से संदेश देते हैं और कई बार तो वे भक्तों को कई महत्वपूर्ण बातें समझाने के लिए कई लीलाओं का सहारा भी लेते थे।ऐसी ही एक अनूठी लीला उन्होंने गोपियों को यह बात समझाने के लिए की थी कि भक्त अपने भगवान के लिए कैसे अपनी भी परवाह नहीं करता।

ऐसा था गांधीजी का कस्तूरबा से रिश्ता, बापू ने कभी बा पर प्रतिबंध भी लगाए थे 
संपादक की पसंद

ऐसा था गांधीजी का कस्तूरबा से रिश्ता, बापू ने कभी बा पर प्रतिबंध भी लगाए थे 

गांधीजी की शादी काफी कम उम्र में यानी बचपन में ही हो गई थी। वैसे उन दिनों बाल विवाह का प्रचलन था। गांधी जी की उम्र विवाह के वक़्त महज 13 साल रही होगी, जबकि कस्तूरबा की उम्र तो पूरी 11 की भी नहीं रही होगी।आपको जानकर हैरानी होगी कि शादी के बाद गांधीजी एकदम पति वाली भूमिका में आ गए थे और बा पर तमाम तरह के प्रतिबन्ध लगा दिए थे।

जानें क्यों खास है भादो का महीना, ये नियम व खास उपाय करके पाएं मनोवांछित फल 
संपादक की पसंद

जानें क्यों खास है भादो का महीना, ये नियम व खास उपाय करके पाएं मनोवांछित फल 

हम सब जानते ही हैं कि हमारे हिंदू पंचांग के अनुसार सावन के बाद भादो का महीना आता है। भादो के महीने को ही भाद्रपद भी कहते हैं जो चातुर्मास का दूसरा महीना है। भादो का महीना 16 अगस्त से शुरू हो चुका है।भादो का महीना भगवान श्री कृष्ण का प्रिय महीना है।

जानिए क्यों इंदिरा नहीं चाहती थीं राजीव गांधी की सोनिया से हो शादी
संपादक की पसंद

जानिए क्यों इंदिरा नहीं चाहती थीं राजीव गांधी की सोनिया से हो शादी

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज 75वीं जयंती है। राजीव गांधी अपनी मां इंदिरा गांधी के लाडले थे। इसलिए इंदिरा उनकी कोई बात नहीं टालती थी। ऐसा ही कुछ राजीव गांधी की शादी के फैसले को लेकर देखने को मिला था। इंदिरा राजीव गांधी की शादी सोनिया से बिल्कुल करना नहीं चाहती थी।  

जब गांधीजी ने थपथपाई थी निजाम की पीठ, जानिए बापू का कब हुआ था हैदराबाद दौरा
हैदराबाद

जब गांधीजी ने थपथपाई थी निजाम की पीठ, जानिए बापू का कब हुआ था हैदराबाद दौरा

वो सन् 7 अप्रैल 1929 का दिन था जब महात्मा गांधी ने हैदराबाद रेलवे स्टेशन पर अपने पावन पांव धरे थे। जानिए कैसा था उस दिन का मंजर?

गांधी जयंती पर मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस, जानिए वजह
संपादक की पसंद

गांधी जयंती पर मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस, जानिए वजह

सभी भारतीय जानते हैं कि हर वर्ष 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती मनाई जाती है और इस दिन सार्वजनिक अवकाश होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अलावा अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। जीवन में सादगी, सरलता और समर्पण के लिए महात्मा गांधी को भारत सहित विश्वभर में दुसरों के लिए प्रेरणास्रोत कहा जाता है।

Railway Recruitment 2019 : रेलवे में निकली बंपर भर्तियां, जानिए कैसे करें अप्लाई
संपादक की पसंद

Railway Recruitment 2019 : रेलवे में निकली बंपर भर्तियां, जानिए कैसे करें अप्लाई

दक्ष‍िण रेलवे ने 2393 पदों पर भर्तियां निकाली है। जिसमें ट्रैकमैन, हेल्‍पर (ट्रैक मशीन), हेल्‍पर(टेली), हेल्‍पर(सिग्‍नल), प्‍वॉइंटमैन ‘B’ (SCP), हेल्‍पर, हेल्‍पर/डिजल मैकेनिकल, हेल्‍पर/डिजल इलेक्ट्रिकल और अन्‍य कई पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं।

जानें क्यों और कैसे गांधीजी ने सूट-बूट छोड़ धोती अपनाई, ये थी वजह 
संपादक की पसंद

जानें क्यों और कैसे गांधीजी ने सूट-बूट छोड़ धोती अपनाई, ये थी वजह 

हम सब जानते ही हैं कि महात्मा गांधी यानी मोहनदास करमचंद गांधी ने अपनी पढ़ाई विदेश में पूरी की थी। उन्होंने इंग्लैंड में कानून के छात्र के रूप में 1888 में सूट पहना था। उसके बाद जब वे दक्षिण अफ्रिका में रहते थे तब भी सूट ही पहना करते थे।तो यहां सवाल यह उठता है कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि वे सूट-बूट छोड़कर सिर्फ धोती पहनने लगे।

ऐसे की जाती है कजरी तीज पर नीमड़ी की पूजा, जानें इससे जुड़ी पौराणिक कथा 
संपादक की पसंद

ऐसे की जाती है कजरी तीज पर नीमड़ी की पूजा, जानें इससे जुड़ी पौराणिक कथा 

कजरी तीज के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और अपने पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं। वहीं इस तीज की तैयारी कुछ दिन पहले से ही शुरू हो जाती है जब घर में सत्तू बनाया जाता है। सत्तू इस पर्व की विशेष मिठाई है इसीलिए इसे सातुड़ी तीज भी कहा जाता है।

अखंड सौभाग्य प्राप्ति के लिए महिलाएं रखती है कजरी तीज का व्रत, जानें महत्व, पूजा विधि 
संपादक की पसंद

अखंड सौभाग्य प्राप्ति के लिए महिलाएं रखती है कजरी तीज का व्रत, जानें महत्व, पूजा विधि 

कजरी तीज का पावन त्योहार रक्षाबंधन के तीन दिन बाद आता है। उत्तर भारतीय कैलेंडर के अनुसार, कजरी तीज भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की तृतीया को मनाई जाती है। इस बार कजरी तीज 18 अगस्त 2019, रविवार को है।

जन्माष्टमी 2019 : जानें 23 या 24 अगस्त, कब मनाएं जन्माष्टमी का पर्व, महत्व व शुभ मुहूर्त   
संपादक की पसंद

जन्माष्टमी 2019 : जानें 23 या 24 अगस्त, कब मनाएं जन्माष्टमी का पर्व, महत्व व शुभ मुहूर्त   

वहीं यह भी कहा जाता है कि पहले दिन वाली जन्माष्टमी स्मार्त मनाते हैं और दूसरे दिन वाली वैष्णव। सूर्योदय के बाद अगर घड़ी दो घड़ी भी वह तिथि हो तो उसी दिन वह पर्व मनाया जाता है। इसीलिए जन्माष्टमी का पर्व 24 अगस्त शनिवार को ही मनाया जाएगा।

कैंसर से लड़ रहे अरुण जेटली की ऐसी है शख्सियत, करते थे गजब की शेर-ओ-शायरी 
संपादक की पसंद

कैंसर से लड़ रहे अरुण जेटली की ऐसी है शख्सियत, करते थे गजब की शेर-ओ-शायरी 

जेटली का नई दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज चल रहा है। वह नौ अगस्त से एम्स के आईसीयू में भर्ती हैं और उनकी हालत ‘‘गंभीर’’ बनी हुई है। डॉक्टरों की टीम उनके उपचार पर नजर रख रही है।

पुण्यतिथि विशेष : अटल बिहारी वाजपेयी की वो कविताएं, जिन्‍हें आप जरूर पढ़ना चाहेंगे
संपादक की पसंद

पुण्यतिथि विशेष : अटल बिहारी वाजपेयी की वो कविताएं, जिन्‍हें आप जरूर पढ़ना चाहेंगे

भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य, सबसे बड़े नेता, भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि है। भाजपा के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी का पिछले साल 16 अगस्त को निधन हो गया था।

पुण्यतिथि विशेष : आपकी सोच बदल सकते हैं अटल बिहारी वाजपेयी के ये अनमोल विचार
संपादक की पसंद

पुण्यतिथि विशेष : आपकी सोच बदल सकते हैं अटल बिहारी वाजपेयी के ये अनमोल विचार

भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य, सबसे बड़े नेता, भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि है।

‘बहु-पति प्रथा महिलाओं के लिए फायदेमंद’, जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर 
संपादक की पसंद

‘बहु-पति प्रथा महिलाओं के लिए फायदेमंद’, जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर 

कुछेक समाजों में बहु-पति प्रथा होती है, जो महिलाओं के लिए फायदेमंद है, क्योंकि इससे वे कठिन आर्थिक परिस्थितियों से बच सकती हैं। एक दिलचस्प शोध में यह जानकारी सामने आई है।

स्वंतत्रता दिवस पर विशेष : आजाद भारत में हैदराबाद इसीलिए नहीं था शामिल
राष्ट्रीय

स्वंतत्रता दिवस पर विशेष : आजाद भारत में हैदराबाद इसीलिए नहीं था शामिल

आज हमारा देश आजादी की 73वीं वर्ष गांठ मना रहा है। अर्थात आजादी के 72 साल बीत चुके हैं। हालांकि तेलंगाना, महाराष्ट्र और कुछ अन्य हिस्सों पर यह बात लागू नहीं होती। अर्थात जब देश आजाद हुआ था तब ये प्रांत निजाम के तानाशाही के शासन के अधीन थे।

सिर्फ रक्षाबंधन पर ही खुलते हैं भगवान विष्णु के इस मंदिर के कपाट, भक्त करते हैं दर्शन 
संपादक की पसंद

सिर्फ रक्षाबंधन पर ही खुलते हैं भगवान विष्णु के इस मंदिर के कपाट, भक्त करते हैं दर्शन 

देवभूमि उत्तराखंड में स्थित भगवान विष्णु के एक प्राचीन मंदिर के खुलने का भक्त पूरे साल इंतजार करते हैं और यह मंदिर रक्षाबंधन पर सिर्फ एक दिन के लिए खुलता है।उत्तराखंड के बदरीनाथ क्षेत्र के उर्गम घाटी में स्थित भगवान विष्णु के इस प्राचीन मंदिर का नाम श्री वंशीनारायण मंदिर है।

इस रक्षाबंधन पर भाई को बांधे घर पर बना वैदिक रक्षासूत्र,  मिलेगा शुभ फल
संपादक की पसंद

इस रक्षाबंधन पर भाई को बांधे घर पर बना वैदिक रक्षासूत्र, मिलेगा शुभ फल

आप सबसे पहले तो यह जान लें कि रक्षासूत्र मात्र एक धागा नहीं बल्कि शुभ भावनाओं व शुभ संकल्पों का पुलिंदा है। यही सूत्र जब वैदिक रीति से बनाया जाता है और भगवन्नाम व भगवद्भाव सहित शुभ संकल्प करके बाँधा जाता है तो इसका सामर्थ्य असीम हो जाता है ।

जानें रक्षाबंधन पर ब्राह्मण क्यों करते हैं श्रावणी उपाकर्म, महत्व व पूजा-विधि 
संपादक की पसंद

जानें रक्षाबंधन पर ब्राह्मण क्यों करते हैं श्रावणी उपाकर्म, महत्व व पूजा-विधि 

श्रावण मास की पूर्णिमा महत्वपूर्ण होती है। एक ओर जहां इस दिन रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है वहीं दूसरी ओर इस दिन श्रावणी उपाकर्म भी किया जाता है। श्रावणी उपाकर्म: संस्कृत दिवस के रूप में मनाया जाता है।

भारत की शान तिरंगे की वो खास बातें जो हर देशभक्त को जानना चाहिए  
संपादक की पसंद

भारत की शान तिरंगे की वो खास बातें जो हर देशभक्त को जानना चाहिए  

तिरंगा झंडा भारत का गर्व है और भारत की संप्रभुता के प्रतीक है। इसे सम्मानपूर्वक देश के हर सम्मानजनक संस्थानों पर फहराया जाता है।

‘इंकलाब जिंदाबाद’ का नारा देने वाले मौलाना हसरत ने भी किया था अनुच्छेद 370 का विरोध  
संपादक की पसंद

‘इंकलाब जिंदाबाद’ का नारा देने वाले मौलाना हसरत ने भी किया था अनुच्छेद 370 का विरोध  

मौलाना हसरत मोहानी किसी पहचान के मोहताज नहीं है। आज की रूमानी पीढ़ी इन्हें “चुपके चुपके रात दिन आंसू बहाना याद है/हमको अब भी आशिकी का वो ज़माना याद है” नाम की मशहूर ग़ज़ल के रचयिता के तौर पर जानती है

रक्षाबंधन 2019 : राखी का एक धागा भाभी के भी नाम, जानें क्यों!
संपादक की पसंद

रक्षाबंधन 2019 : राखी का एक धागा भाभी के भी नाम, जानें क्यों!

श्रावण पूर्णिमा पर मनाया जाने वाला रक्षाबंधन भारत के उन त्योहारों में से है, जिसे भारत के एक बड़े भू-भाग में मनाया जाता है। समय के साथ इस त्योहार में काफी बदलाव आए हैं

वाराही धाम : भगवान विष्णु का अनोखा मंदिर, यहां रक्षाबंधन पर पत्थर से होता है युद्ध 
संपादक की पसंद

वाराही धाम : भगवान विष्णु का अनोखा मंदिर, यहां रक्षाबंधन पर पत्थर से होता है युद्ध 

उत्तराखंड में वाराही धाम नामक यह मंदिर स्थित है। मां वराही धाम देवीधुरा का मंदिर देश के गिने चुने वैष्णव मंदिरों में से एक है। यह बड़ा ही अद्भुत-अलौकिक धाम है।यहां पर पृथ्वी माता की वाराही स्वरूप में पूजा होती है।

रक्षा बंधन पर ये हैं 10 खास गाने, जो भाई-बहन के रिश्ते को बनाते हैं मजबूत
राष्ट्रीय

रक्षा बंधन पर ये हैं 10 खास गाने, जो भाई-बहन के रिश्ते को बनाते हैं मजबूत

हम सब जानते ही हैं कि रक्षाबंधन का त्योहार आ रहा है। इस साल रक्षाबंधन का त्योहार और स्वतंत्रता दिवस साथ ही मनाए जाएंगे। जी हां, 15 अगस्त को ही रक्षाबंधन है। तो इससे जुड़ी तैयारियां भी शुरू हो गई है।

रक्षाबंधन 2019 : भाई की राशि के हिसाब से बांधे इन रंगों की राखी, मिलेगा शुभ फल
संपादक की पसंद

रक्षाबंधन 2019 : भाई की राशि के हिसाब से बांधे इन रंगों की राखी, मिलेगा शुभ फल

आपको पता ही होगा कि हर किसी के जीवन में रंगों का महत्व होता है। वहीं अगर आप अपने भाई की राशि के हिसाब से रंग को चुनकर राखी बांधेंगी तो इससे आपके भाई के जीवन में खुशहाली आएगी और आपको भी इसका शुभ फल मिलेगा।

रक्षाबंधन 2019 : जानें राखी बांधने के नियम, इस दिन भाई-बहन क्या करें और  क्या न करें   
संपादक की पसंद

रक्षाबंधन 2019 : जानें राखी बांधने के नियम, इस दिन भाई-बहन क्या करें और क्या न करें   

इस सबके बीच भाई-बहन को कुछ बातें जाननी चाहिए। जैसे कि बहनों को सबसे पहले रक्षाबंधन के दिन राखी की पूजा करनी चाहिए फिर उसके बाद ही भाई को राखी बांधनी चाहिए। साथ ही रक्षाबंधन के भी कुछ नियम है जिनपर अमल करना जरूरी होता है।

वैज्ञानिक विक्रम साराभाई  जयंती : देश आपकी सेवाओं को हमेशा याद रखेगा
गेस्ट कॉलम

वैज्ञानिक विक्रम साराभाई जयंती : देश आपकी सेवाओं को हमेशा याद रखेगा

आज भारतीय वैज्ञानिक विक्रम साराभाई की जन्म शत (जंयती) है। विक्रम अंबालाल साराभाई का जन्म 12 अगस्त 1919 को अहमदाबाद में हुआ था। अहमदाबाद में जन्में विक्रम साराभाई ने भारत को अंतरिक्ष तक पहुंचाया। आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है।

अद्भुत है तमिलनाडु का नागनाथस्वामी मंदिर, शिवलिंग पर चढ़ते ही बदल जाता है दूध का रंग  
संपादक की पसंद

अद्भुत है तमिलनाडु का नागनाथस्वामी मंदिर, शिवलिंग पर चढ़ते ही बदल जाता है दूध का रंग  

हमारे देश में कई अद्भुत मंदिर है जो अपनी अलग मान्यताओं के कारण प्रसिद्ध है। तमिलनाडु में एक ऐसा ही अनोखा मंदिर है जो नागनाथस्वामी मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है। यह मंदिर वैसे तो भगवान शिव का है पर यहां विशेष रूप से केतु की पूजा की जाती है।

विशेष संयोग के साथ आया है सावन का अंतिम सोमवार, ऐसे पूजा करें और मनचाहा वरदान पाएं 
संपादक की पसंद

विशेष संयोग के साथ आया है सावन का अंतिम सोमवार, ऐसे पूजा करें और मनचाहा वरदान पाएं 

वहीं सावन के चौथे सोमवार को त्रयोदशी तिथि है यानी इस दिन सोम प्रदोष व्रत भी है जिससे इसका महत्व बढ़ जाता है। भगवान शिव को प्रदोष व्रत अत्यंत प्रिय है तो आप सावन सोमवार की व्रत पूजा के साथ ही सोम प्रदोष का व्रत रखके उसकी पूजा भी कर सकते हैं।

रक्षाबंधन पर बहन को गिफ्ट क्या दें , नहीं सूझ रहा तो यहां से लें आइडिया 
संपादक की पसंद

रक्षाबंधन पर बहन को गिफ्ट क्या दें , नहीं सूझ रहा तो यहां से लें आइडिया 

वहीं रक्षाबंधन का इंतजार दोनों को ही होता है। बहन भाई को सबसे बेस्ट राखी बांधना चाहती है तो भाई उसे सबसे अच्छा गिफ्ट देना चाहता है। वहीं अक्सर भाई गिफ्ट के मामले में कन्फ्यूज रहते हैं।वे सबसे अच्छा गिफ्ट देना तो चाहते हैं पर उनकी समझ में नहीं आता कि आखिर क्या दें जिससे कि बहन खुश हो जाए।

Eid Al Adha 2019 : किसके लिये जरूरी है कुर्बानी देना, जानिए अहम बातें 
संपादक की पसंद

Eid Al Adha 2019 : किसके लिये जरूरी है कुर्बानी देना, जानिए अहम बातें 

बकरीद इस साल 12 अगस्त को मनाई जाएगी। बकरीद कुर्बानी का त्योहार है। इस दिन बकरे के साथ कई और जानवरों की कुर्बानी दी जाती है। इस त्योहार को लेकर मान्यता है कि इस त्योहार को मनाने वाले लोग दूसरों की भलाई के लिए अपने करीबी चीजों की कुर्बानी दे सकते हैं।

Raksha Bandhan 2019 : कैसे हुई रक्षाबंधन की शुरुआत, जानिए इससे जुड़ा इतिहास
संपादक की पसंद

Raksha Bandhan 2019 : कैसे हुई रक्षाबंधन की शुरुआत, जानिए इससे जुड़ा इतिहास

भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक पावन पर्व रक्षाबंधन आने में कुछ दिन ही शेष हैं। दूर-दराज रहने वाले भाई-बहन एक-दूसरे से मिलने और इस त्यौहार को मनाने की तैयारी कर रहे हैं। क्या आप जानते हैं रक्षाबंधन त्यौहार की शुरुआत कैसे हुई। पहली बार किसने, किसे राखी बांधी थी।

CA की नौकरी छोड़ सोहन ठाकुर ने टीवी इंडस्ट्री में किया बिहार का नाम रौशन, पायलट बनने का था शौक 
संपादक की पसंद

CA की नौकरी छोड़ सोहन ठाकुर ने टीवी इंडस्ट्री में किया बिहार का नाम रौशन, पायलट बनने का था शौक 

सोहन ठाकुर अब तक मुंबई फिल्म और टीवी इंडस्ट्री में देशभर से साढ़े चार हजार से भी ज्यादा कलाकारों को टीवी और फिल्म में प्रवेश करा चुके हैं। कास्ट डायरेक्टर के तौर पर वह लंबे समय से नई- नई प्रतिभाओं की तलाश कर रहे हैं

कौन हैं अजीत डोभाल, जिनकी रणनीति के आगे पस्त हुआ पाकिस्तान 
संपादक की पसंद

कौन हैं अजीत डोभाल, जिनकी रणनीति के आगे पस्त हुआ पाकिस्तान 

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इनदिनों कश्मीर दौरे पर है। शनिवार को वह अनंतनाग में आम लोगों से मिलते नजर आए। अजीत डोभाल ने देश की सुरक्षा के कई ऐसे कारनामें हैं जिसे लोग आज भी याद करते हैं