श्रीकाकुलम : इंटर प्रथम वर्ष की छात्रा की बलात्कार के बाद हत्या किये जाने के बाद भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किये जाने के विरोध में पलासा-काशीबुग्गा में जन संगठन, महिला संगठन और छात्र संगठनों ने धरना और प्रदर्शन किया। इस धरना प्रदर्शन में हजारों की संख्या में लोगों ने भाग लिया। इसके चलते घंटों तक ट्रैफिक जाम रह गया।

घटनास्थल पर स्थानीय लोग
घटनास्थल पर स्थानीय लोग

आपको बता दें कि जिले के वज्रपुकोत्तुरु मंडल क्षेत्र के बातुपुरम गांव निवासी इरोतु ईश्वर राव और पार्वती दंपती रोज मजदूरी करते हुए जीवन यापन कर रहे हैं। धर्मवरम में इनकी बेटी (16) इंटर प्रथम वर्ष और बेटा एसएससी की पढ़ाई कर रहे हैं। इसके चलते ईश्वर राव और पार्वती धर्मवरम में बच्चों के साथ ही रह रहे हैं।

छत्रा की बलात्कार के बाद हत्या के विरोध में पदर्शन
छत्रा की बलात्कार के बाद हत्या के विरोध में पदर्शन

इसी क्रम में शनिवार रात को 2 बजे छात्रा शौचालय के लिए बाहर गई। बहुत देर तक नहीं आई। इसके चलते परिवार वालों ने बेटी को ढूंढना शुरू कर किया। रविवार को अल सुबह उसका पास में शव रेलवे की पटरी पर पाया गया। इसकी थोड़ी सी दूरी पर झाड़ियों में छात्रा की चूड़ियां और चप्पल भी थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया।

इसे भी पढ़ें

बैंक से घर लौट रही महिला को युवक ने दिया बहन का झांसा, फिर जंगल में ले जाकर रेप किया और...

नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर खेत में दरिंदा करता रहा रेप और पहरा देते रहे दोस्त

 परिवजनों को सांत्वना देते हुए विधायक अप्पलराजू 
परिवजनों को सांत्वना देते हुए विधायक अप्पलराजू 

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक आरएन अम्मिरेड्डी ने पलासा सरकारी अस्पताल गये और शव का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने आंदोलनकारियों को आश्वासन दिया कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

धरना के चलते ट्रैफिक जाम
धरना के चलते ट्रैफिक जाम

पलासा निर्वाचन क्षेत्र के विधायक डॉ सीदिरी अप्पलराजू ने छात्रा की बलात्कार के बाद हत्या की घटना की जानकारी सीएम जगन को दी। मुख्यमंत्री ने इस घटना को गंभीरता से लिया। उन्होंने आदेश दिया कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट की जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाये।

विधायक ने सीएम को लिखा पत्र

सीएम जगन को लिखा हुआ विधायक का पत्र
सीएम जगन को लिखा हुआ विधायक का पत्र

इसी क्रम में विधायक अप्पलराजू ने इस घटना के बारे में मुख्यमंत्री वाईएस जगन को पत्र लिखा। उन्होंने लिखे पत्र में सीएम से आग्रह किया कि इस घटना की जांच एपी दिशा एक्ट 2019 के तहत की जाए। साथ ही आग्रह किया कि मृतक परिवार के साथ न्याय किया जाये। विधायक ने मृतक छात्रा के परिजनों को पांच लाख रुपये मुआवजा मंजूर किये जाने के लिए आवश्यक कदम उठाने का भी आश्वासन दियाा।