हैदराबाद : भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) के अधिकारियों ने बिजली विभाग के अभियंता मुत्यम वेंकटरमणा को 25 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने बिजली विभाग (टीएसएस पीडीसीएल) साइबर सिटी सर्किल के रंगारेड्डी जिले के विभागीय अभियंता वेंकटरमणा को शिकायतकर्ता से रिश्वत लेते हुए गुरुवार को गिरफ्तार किया।

इसके बाद अधिकारियों ने वेंकटरमणा के पोलारीज मीनाक्षी स्काई लांच, माधापुर, खानापेट के मकान पर छापा मारा। छापे के दौरान करोड़ों की संपत्ति बरामद की। बरामद संपत्ति में 60 तोले सोने के आभूषण, 26 लाख नगद, विदेशी घड़ियां और अन्य इलेक्ट्रानिक्स उपकरण बरामद किया गया। बरामद संपत्ति का मूल्य लगभग 2 करोड़ से अधिक है।

रिश्वत राशि को दिखाते हुए एसीबी अधिकारी
रिश्वत राशि को दिखाते हुए एसीबी अधिकारी

एसीबी अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि मणिकोंडा निवासी और पेशे से ठेकेदार एम शिव कुमार ने अपार्टमेंट के बिजली के कार्य की लागत को मंजूर करने के लिए वेंकटरमणा ने 25 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। शिव कुमार इसकी शिकायत एसीबी के अधिकारियों के पास की। एसीबी अधिकारियों ने शिव कुमार से 25 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

यह भी पढ़ें :

ESI घोटाला : एसीबी कस्टडी में रहेंगे देविका रानी समेत 6 अन्य आरोपी, एक और गिरफ्तार

इसके बाद अधिकारियों ने वेंकटरमणा के निवास पर छापा मारा। अधिकारियों ने वेंकटरमणा के एसीबी की विशेष अदालत में पेश किया। अदालत ने वेंकटरमणा को न्यायिक हिरासत भेज दिया है।

यह भी पढ़ें :

ESI डायरेक्टर देविका रानी को ACB के अधिकारियों ने किया गिरफ्तार, यह है मामला

ईएसआई घोटाले में नया मोड़, रिप्रेजेंटेटिव के मकान में पाये गये 36 करोड़...