उन्नाव : जिंदगी और मौत से जूझ रही रेप विक्टिम, जलने के बाद खुद किया पुलिस को कॉल

उन्नाव में रेप विक्टिम को कोर्ट जाते वक्त आरोपियों ने जिंदा जला दिया। - Sakshi Samachar

उन्नाव : उत्तर प्रदेश के उन्नाव में गुरुवार को कुछ लोगों ने अपने साथियों के साथ मिलकर एक दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाने का प्रयास किया। उसे लखनऊ के एक हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। विक्टिम 90 फीसदी तक जल चुकी है। उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

उन्नाव के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्डेय ने बताया, "घटना बिहार थानाक्षेत्र के हिन्दुनगर गांव की है। पीड़िता अपने मुकदमे के सिलसिले में वकील से मिलने रायबरेली जा रही थी, तभी कुछ लोगों ने पीड़िता पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर उसे जलाने का प्रयास किया। मौके पर पुलिस पहुंच गयी थी। पीड़िता को तत्काल अस्पताल भेजा गया है। पीड़िता ने जिन लोगों के नाम बताएं उनमें से कुछ लोग पकड़ गए और अन्य पकड़े जा रहे है। मौके पर सारे बड़े अधिकारी मौजूद हैं।"

प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओ.पी. सिंह ने बताया, "पीड़िता को जलाने की घटना बहुत ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण है। उसे बचाने के लिए हरसंभव कोशिश की जा रही है। उसे लखनऊ रेफर किया गया है। मामले में कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। एक अन्य आरोपी फरार है। पुलिस सभी की कॉल डिटेल्स खंगाल रही है। हमने पीड़िता का स्टेटमेंट भी लिया है जो मामले में बहुत महत्वपूर्ण होगा।"

इसे भी पढ़ें

उन्नाव रेप पीड़िता सड़क दुर्घटना मामले में सरकार ने की CBI जांच की सिफारिश

उन्नाव रेप विक्टिम की हालत नाजुक, पार्टी से निकाले गए आरोपी कुलदीप सेंगर

सुनवाई के लिए कोर्ट जा रही थी विक्टिम

स्थानीय लोगों ने बताया कि कुछ दिन पहले ही युवती के साथ दुष्कर्म हुआ था। इस मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। पीड़िता आज इसी सिलसिले में रायबरेली जा रही थी। सुबह चार बजे के करीब गांव के बाहर खेत में कुछ लोगों ने उसके ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर उसे जलाने का प्रयास किया।

जिंदा जलने के बाद एक किलोमीटर लगाई दौड़

घटना के एक चश्मदीद रविंद्र प्रकाश ने बताया कि जिंदा जलाए जाने के बाद पीड़िता करीब एक किलोमीटर तक दौड़ते हुए उसके पास मदद के लिए पहुंची थी। इसके बाद उसके फोन से पीड़िता ने खुद 100 नंबर पर डायल किया और पुलिस को घटना की सूचना दी। पीड़िता से बात के बाद पीआरवी और पुलिस मौके पर पहुंची।

बताया जा रहा है कि दुष्कर्म के आरोपियों ने ही ऐसा प्रयास किया है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया।

Advertisement
Back to Top