हैदराबाद : तेलंगाना हाईकोर्ट ने 'जस्टिस फॉर दिशा' मामले की सुनवाई को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित किये जाने की मंजूर दी है। इसके चलते महबूबनगर में जल्द ही फास्ट ट्रैक कोर्ट को स्थापित किया जाएगा। साथ ही हाईकोर्ट ने फास्ट ट्रैक कोर्ट के लिए महबूबनगर डिस्ट्रीक कोर्ट सेशन जज को भी नियुक्त करते हुए आदेश जारी किया है।

आपको बता दें कि शादनगर के पास वेटरनरी डॉक्टर ‘दिशा’ की बलात्कार के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पुरे देश को झकझोर कर रख दिया है। इस मामले के आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिये जाने की मांग देश भर में की जा रही है। इस मामले की गूंज संसद सत्र में भी उठी है।

इसी क्रम में तेलंगाना सरकार ने इस मामले की तुरंत सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित किये जाने का आग्रह करते हुए हाईकोर्ट को पत्र लिखा। तेलंगाना के ला सेक्रेटरी संतोष रेड्डी ने इस मामले की तुरंत सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट की आवश्यकता का जिक्र करते हुए पत्र लिखा। होईकोर्ट ने इस पर आज सुनवाई हुई और फास्ट ट्रैक कोर्ट को मंजूर दी।

इसे भी पढ़ें :

दिशा हत्याकांड: शादनगर कोर्ट में हुई आरोपियों की पेशी, पुलिस ने मांगी 10 दिन की रिमांड

Disha Rape & Murder: गुनहगारों को फांसी की मांग के साथ निकली Candle Rally

Justice For Disha : पीड़िता का नाम जाहिर करने पर जारी हुआ नोटिस

इसके अलावा हाईकोर्ट ने विशेष पीपी को नियुक्त किया है। फास्ट ट्रैक कोर्ट में 30 से 45 दिन के अंदर आरोपियों को सजा दी जाएगी। इसी क्रम में पुलिस दिशा मामले के चारों आरोपियों को गुरुवार को सात दिन की पुलिस कस्टडी में लेगी। पुलिस कस्टडी की मांग करते हुए गत दो दिन तक शादनगर कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने आरोपियोें को सात दिन की कस्टडी मंजूर की है। दूसरी ओर लोगों के गुस्से को देखते हुए पुलिस आरोपियों को कस्टडी में लेकर जाने या जेल में ही पूछताछ करने पर गंभीरता से विचार कर रही है।