दहेज नहीं दिया तो दुल्हन को ही बेच दिया, 4 साल तक लगती रही जिस्म की बोली

कान्सेप्ट फोटो  - Sakshi Samachar

कटिहार : बिहार के कटिहार जिले से एक शर्मनाक करतूत सामने आई है। यहां दहेज के लिए ससुराल पक्ष के लोगों ने दुल्हन का ही सौदा कर दिया। इस घिनौनी करतूत का खुलासा खुद पीड़िता ने किया है। रेड लाइट एरिया से किसी तरह निकल कर भागने वाली पीड़िता ने जो बताया उसे सुनकर हर कोई दंग रह गया।

चार साल तक लगती रही जिस्म की बोली

पीड़िता के अनुसार, ससुरालवालों ने पहले तो उसे प्रताड़ित किया और फिर देह व्यापार के मंडी में बेच दिया। पीड़िता चार साल बाद किसी तरह उत्तर प्रदेश के कानपुर स्थित देह व्यापार मंडी के दलालों के चुंगल से भागकर आपने मायके कटिहार जिला कोढ़ा थाना क्षेत्र के संधलपुर गांव पहुंची।

दरअसल, कटिहार कोढ़ा थाना क्षेत्र की पीड़िता की शादी अररिया जिला के मोहम्मद शमीम से लगभग 7 साल पहले हुआ था। पीड़िता के मजदूर पिता ने शादी में जो भी संभव हुआ दान-दहेज के रूप में दिया था। फिर भी दहेज के लोभी ससुराल वाले अक्सर उसे प्रताड़ित करते थे।

इस मामले को लेकर 2015 में एक पंचायती भी हुई थी। जिसके बाद ससुराल पक्ष के लोग खुद पीड़िता को ससुराल ले गए थे। लेकिन दो दिन के बाद ही पीड़िता अपने ससुराल से रहस्मय ढंग से गायब हो गई। लगभग 4 साल बाद वो अपने घर लौटी और जुर्म की पूरी दस्तान सुनाई।

इसे भी पढ़ें :

दो नाबालिग बहनों से किया गैंगरेप, एक की आंख फोड़ी, दूसरी के साथ...

बिहार में शादी समारोह में की गई ‘हर्ष फायरिंग’ में वीडियोग्राफर की मौत

पीड़िता ने बताया कि दहेज नहीं दे पाने के कारण उसके शौहर और ससुरालवालों ने नशे की दवा खिलाकर उसे बेहोशी की हालत में उत्तर प्रदेश के कानपुर में देह व्यापार के मंडी में बेच दिया था। यहां हर रोज उसकी आबरु की बोली लगती थी। लगातार 4 साल तक इस हालत को झेलने को मजबूर किया गया।

चार साल के बाद वो किसी तरह दलालों के चुंगल से भाग कर कटिहार पहुंची है। इस मामले को पुलिस ने भी गंभीरता से लिया है। पुलिस ने आवेदन के आधार पर कोढ़ा थाना में मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस इस केस लो लेकर अररिया में कई बार छापेमारी भी कर चुकी है।

Advertisement
Back to Top