घर में सो रही छात्रा से चार लड़कों ने किया गैंगरेप, फिर ईंट-पत्थर से कूंचकर की हत्या 

कान्सेप्ट फोटो  - Sakshi Samachar

पटना : बिहार के मसौढ़ी से एक रुह कपा देने वाली घटना सामने आई है। रिश्ते में भाई लगने वाले युवक ने अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर 10वीं कक्षा की छात्रा (16 वर्ष) के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया तथा साक्ष्य छुपाने के लिए ईंट-पत्थर से कूंच-कूंचकर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी।

घटना मंगलवार की देर रात मसौढ़ी थाना इलाके के कररिया गांव में हुई। छात्रा का शव बुधवार की सुबह उसके कमरे में देखा गया। जिस वक्त यह वारदात हुई, उस समय छात्रा घर में अकेली थी। उसकी मां इलाज कराने बिहटा स्थित अपने मायके गई हुई थी। मामले का खुलासा बुधवार को हुआ।

बताया जा रहा है कि इस घटना को अंजाम देने वाला युवक रिश्ते में छात्रा का चचेरा भाई लगता है। पुलिस के अनुसार, जिस वक्त यह घटना घटी उस वक्त छात्रा घर में अकेले थी। उसकी मां इलाज कराने बिहटा स्थित अपने मायके गई हुई थी। मायके जाने से पहले उसकी मां ने उसे पड़ोस की एक महिला को देखरेख करने के लिए कहा था। उस महिला की बेटी पीड़िता की सहेली थी।

बताया जा रहा है कि बुधवार की सुबह जैसे ही घटना की जानकारी सामने आई मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों ने शव उठाने से रोक दिया। पुलिस ने डॉग स्क्वॉयड और एफएसएल की टीम बुलाई और डॉग स्क्वॉयड की मदद से आरोपितों की पहचान की गई। आरोपियों के घरों से कपड़े और जूते बरामद किए गए।

इसे भी पढ़ें :

खिड़की तोड़कर घर में घुसे बदमाश, महिला से गैंगरेप कर हुए फरार

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए आरोपी अंजनी कुमार, छोटन साव, अखिलेश कुमार और सतीश कुमार पहले सीढ़ी के सहारे छात्रा के घर की छत पर चढ़े, फिर घर में घुस गए। उन्हें देख छात्रा ने शोरशराबा भी किया, लेकिन पड़ोसियों की नींद नहीं खुली। काफी देर तक छात्रा उनका विरोध करती रही। बाद में उन लड़कों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया।

पुलिस के अनुसार, दुष्कर्म करने के बाद कहीं मामला खुल न जाए, इसलिए छात्र के गले पर आरोपियों ने प्रकाल से वार किया। छात्रा के गिरते ही उनलोगों ने ईंट-पत्थरों से उसके चेहरे पर वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। छात्रा के दम तोड़ते ही सभी वहां से भाग निकले।

इसे भी पढ़ें :

पहले तीन साल तक चला अफेयर, फिर थाने में हुआ निकाह, अब ऐसे उतरा इश्क का बुखार

आत्महत्या या किलिंग : ब्वॉयफ्रेंड के साथ मिली राजद विधायक के भतीजी की लाश

यह भी बताया जा रहा है ति पीड़ित युवती के पिता की दो साल पहले मौत हो चुकी है। वह भाइयों के साथ पंजाब में रहती थी। सालभर पहले वह मैट्रिक की परीक्षा देने के लिए पटना आई थी। यहां एक विद्यालय में उसने नौवीं में रजिस्ट्रेशन कराया और अगले वर्ष मैटिक की परीक्षा देने वाली थी।

Advertisement
Back to Top