सूरत: गुजरात के सूरत से एक शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 17 साल की लड़की से रेप के बाद सबूत मिटाने के लिए आरोपियों ने कथित तौर पर एक नवजात को जिंदा दफना दिया। इसके बाद मौके से फरार हो गए। पीड़िता की मां की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक किसी भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

पीड़िता की मां ने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया कि 2 साल पहले कथित अशोक राठोड़ ने उसकी बेटी से दोस्ती की थी। एक दिन किसी काम के बहाने उसकी बेटी को अशोक बाहर ले गया और कथित तौर पर अक्टूबर 2017 में एक फार्म में उसके साथ रेप किया।

इसे भी पढ़ें :

देश के 15 राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, गुजरात में बिगड़े हालात

पत्नी को बाथरूम में ले जाकर पति करना चाहता था गंदा काम, थाने में खुली जेठ की सच्चाई

किशोरी की मां ने बताया कि शादी का झांसा देकर इसके बाद भी आरोपी उसकी बेटी से संबंध बनाता रहा। साल 2018 में जब किशोरी ने उससे बताया कि वह प्रेग्नेंट है, तो अशोक ने उससे वादा किया कि वह बच्चे की जिम्मेदारी लेगा। लेकिन बाद में वह मुकर गया।

पीड़िता की मां ने यह भी बताया कि जून के महीने में आशोक का एक दोस्त उनके घर आया और उनकी बेटी को कुछ मेडिकल जांच के बहाने बारदोली ले गया। वहां से डॉक्टरों ने उसे सूरत के लिए रेफर कर दिया। जहां किशोरी ने एक बच्चे को जन्म दिया।

इसे भी पढ़ें :

बेबस पति के सामने लुटती रही पत्नी की इज्जत, पानी के बहाने घर में घुसे थे दरिंदे

पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि अशोक समेत चार आरोपियों ने मिलकर उस नवजात शिशु को सूरत से करीब 20 किमी दूर बालेश्वर गांव में जिंदा दफना दिया। इस घटना में एक डॉक्टर भी मिला हुआ है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और आरोपियों की तलाश की जा रही है। अभी तक कोई भी आरोपी गिरफ्तार नहीं हुआ है।