लखनऊ : छात्रा के साथ दुष्कर्म करने और उसे ब्लैकमेल करने के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता स्वामी चिन्मयानंद को उनके मुमुक्ष आश्रम से गिरफ्तार कर लिया गया है।

एसआईटी ने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर स्थित आश्रम से चिन्मयानंद को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद चिन्मयानंद को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया। इस दौरान वहां भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं। फिलहाल चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

इससे पहले गुरुवार को चिन्मयानंद अपना इलाज आयुर्वेद से कराने की बात कहकर मेडिकल कॉलेज से आश्रम लौट गए थे। चिन्मयानंद को स्वास्थ्य खराब होने के कारण शाहजहांपुर के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था, जहां हालत ज्यादा खराब होने के चलते उन्हें डॉक्टरों ने केजीएमसी लखनऊ रैफर कर दिया था।

गौरतलब है कि स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली एलएलएम की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल कर चिन्मयानंद पर शारीरिक शोषण करने, कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए उसे तथा उसके परिवार की जान को खतरा बताया था।

यह भी पढ़ें :

स्वामी चिन्मयानंद की तेल मालिश का VIDEO देख रहा हिंदुस्तान

चिन्मयानंद के काले राज खोलेगी ‘पेन-ड्राइव’, हॉस्टल के बंद कमरे में छुपे हैं तमाम राज !

इस संबंध में पीड़िता के पिता की ओर से कोतवाली शाहजहांपुर में चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज किया। इससे ठीक एक दिन पहले चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने पीड़िता और उसके परिवार के खिलाफ पांच करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया था।