बेल्लमपल्ली : नौकरी लगवाने का झांसा देकर बेरोजगार युवकों से करीब दो करोड़ रुपये की ठगी करने के आरोप में एक महिला को गिरफ्तार किया है। आरोपी महिला ने आदिलाबाद, वरंगल, रंगारेड्डी और सिकंदराबाद के कई युवाओं के साथ नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी की। उसने बेरोजगार युवाओं से लगभग 2 करोड़ रुपये वसूले और फरार हो गई।

बेल्लमपल्ली की कन्नाला बस्ती की ठाकुर सुमलता ने कोलबेल्ट के अलावा प्रदेश के कई गांवों के बेरोजगार युवाओं नौकरी का झांसा दिया। उसने एक-एक से लगभग दो से तीन लाख रुपये वसूले। कई दिन बीतने के बावजूद भी युवाओं को किसी प्रकार कॉल लेटर नहीं मिला। कई युवाओं ने घर-जमीन बेचकर और कर्ज लेकर महिला को दिया। इस राशि का ब्याज भरते-भरते वे थक गये और उनका गुस्सा फूट आया।

सभी ने मिलकर छह महीने पहले ही मंचीरियाल डीसीपी कार्यालय में महिला के खिलाफ शिकायत की। उनकी शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया। इस बीच उक्त महिला ने अदालत से आईपी ली। पीड़ितों ने लगभग 2 करोड़ रुपये वसूलने की बात कही तो महिला ने अदालत से 80 लाख रुपये की आईपी ली। जिन्होंने महिला को रुपये दिये उल्टा उन्हें ही महिला की ओर अदालत द्वारा नोटिस मिली। इससे बेरोजागर युवा पशोपेश में रहे और उन्होंने पुलिस थाने में शिकायत की।

इसे भी पढ़ें :

नौकरी का झांसा देकर लाखों वसूलने वाले गिरोह का भंडाफोड़, तीन गिरफ्तार

सचिवालय में नौकरी का झांसा देकर ठगों ने वसूले 70 लाख रुपये

आपको बता दें कि महिला ने तेलंगाना के कासीपेट, सोमागुडेम, बेल्लमपल्ली, मंदामर्री, कागजनगर, वरंगल, परकाला, हनमकोंडा, रंगारेड्डी और सिकंदराबाद के कई युवाओं के साथ नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी की।