पटना: बिहार के आरा जिले में एक नाबालिग लड़की ने कोर्ट में सनसनीखेज बयान दर्ज कराते हुए प्रदेश में चलने वाले सेक्स रैकेट के अंदर राजनेताओं की मिलीभगत और भूमिका का खुलासा कर दिया है। नाबालिक लड़की ने सोमवार को कोर्ट में दिए गए अपने बयान में कहा है कि उसे विधायक के पास भेजा जाता था।

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि जब एक लड़की को आरा जिले में कोर्ट में बयान दर्ज कराने के लिए भेजा गया तो उसने कोर्ट में सबके सामने कहा कि उसे एक विधायक के पास भेजा जाता था। हालांकि उसने किसी विधायक का नाम नहीं लिया है।

आपको बता दें कि 2 दिन पूर्व आरा की किशोरी के माध्यम से भोजपुर में पुलिस ने पटना में चल रहे एक बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा किया था। हालांकि सेक्स रैकेट का मास्टरमाइंड संजय पासवान अभी भी फरार है। उस मामले में सोमवार को कोर्ट ने नाबालिग का बयान दर्ज कराया है। नाबालिग में अपने 164 के बयान में कहा है कि लड़कियों को आरा की एक इंजीनियर के आवास पर और होटलों में ले जाया जाता था। पुलिस ने विधायक की पहचान करने और सेक्स रैकेट चलाने वाले मास्टरमाइंड संजय पासवान की गिरफ्तारी में जुटी हुई है।

इसे भी पढ़ें :

बिहार के समस्तीपुर में दी जा रही है तालिबानी स्टाइल में सजा, देखें तस्वीरें

बिहार में हवस मिटाने के होता है गर्ल्स हॉस्टल्स की लड़कियों का इस्तेमाल..!

हालांकि इस मामले पर आरा के एसपी सुशील कुमार ने कहा कि किशोरी ने किसी विधायक का नाम तो नहीं लिया है। फिर भी एक विधायक के पास भेजे जाने की बात कही है। अब हम पूरे मामले की तह तक जाने की कोशिश कर रहे हैं।

आपको बता दें कि पहले भी आरा जिले में इस तरह के खेल पहले भी हो चुके हैं और कई नेताओं पर इस तरह के रैकेट में शामिल होने के आरोप भी लगे थे। कुछ जगह पर अपहरण करके रेप करने का मामला भी आया था। उस समय बसपा के कई नेताओं का नाम चर्चा में आने के बाद पार्टी की किरकिरी हुई थी।