हत्या की गुत्थी सुलझी, गिरफ्तारी से पहले आरोपी ने किया आत्मसमर्पण 

तृप्तिमयी पंडा (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

श्रीकाकुलम : ओडिशा की छात्रा तृप्तिमयी पंडा की हत्या के मामले में आरोपी ने तीन साल बाद सोमपेट पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। बेसीरामचंद्रपुरम में वर्ष 2016 में सनसनी फैलानेवाली हत्या की गुत्थी सुलझी। आरोपी के लिए सोमपेट सर्कल पुलिस ने देश के प्रमुख शहरों मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद, गोवा, पुणे आदि शहरों में तलाश की।

सोमपेट सीआई के श्रीनिवास राव ने बताया कि मंडल के बेसीरामचंद्रपुरम राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे एक अज्ञात युवती का शव वर्ष 2016 में 27 अगस्त को बरामद हुआ। उस समय पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की और उसकी पहचान ओडिशा छत्रपुरम गांव के विवेकानंद पंडा और स्वर्णमयी पंडा की बेटी के रूप की गई।

तृप्तिमयी ने ओडिशा के छत्रपुरम में डिग्री की पढ़ाई पूरी की। इस दौरान उसकी पहचान सिक्कल कुमार बेहरादी से हुई। डिग्री की पढ़ाई पूरी करने के बाद बरमपुर कालिकत कॉलेज में एमसीए (प्रथम वर्ष ) में पढ़ाई कर रही थी। वह अपनी सहेली अनुराधा के साथ एक निजी छात्रावास में रह रही थी।

इस बीच पुलिस से नजरे चुराकर हैदराबाद गया सिक्कल कुमार ने तृप्तिमयी की सहेली अनुराधा को फोन किया और बरमपुर में मिलने को कहा। तत्पश्चात वह उसे दुपहिया वाहन पर बरमपुर से बरुवा बीच ले गया। वापस लौटते समय बेसीरामचंद्रपुरम ले-आउट के निकट कुछ देर ठहरने के बाद दोनों के बीच झगड़ा हुआ।

इसे भी पढ़ें :

कलेक्टरेट में अधिकारियों के सामने युवती ने किया आत्महत्या का प्रयास

आरोपी सिक्कल कुमार ने साथ लाये चाकू से गला काटने के बाद पेट में घोंपा। इस घटना में उसकी मौत हो गई। घटनास्थल वह हैदराबाद चला आया। पुलिस ने जांच के अंतर्गत आरोपी का पता लगाया और उसकी पहचान भी कर ली, लेकिन उसे मौजूद नहीं होने से गिरफ्तार नहीं किया। इस बीच आरोपी ने खुद को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

Advertisement
Back to Top