आईटीआई कॉलेज का प्राचार्य और ईएनटी चिकित्सक रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार   

फाइल फोटो - Sakshi Samachar

बीकानेर : भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के दल ने जिले के खाजूवाला में आईटीआई कॉलेज के प्राचार्य को एक हजार रुपये और श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर ईएनटी सर्जन को दो हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रजनीश पूनियां ने बताया कि जिले के खाजूवाला में आईटीआई कॉलेज के प्राचार्य देवेंद्र कुमार ने संविदा पर लगे शिक्षकों के वेतन के लिए रिश्वत के तौर पर दो हजार रुपये की मांग की। शिक्षकों की और से ब्यूरो में इसकी शिकायत की गई थी।

उन्होंने बताया कि शिकायत के सत्यापन के बाद मंगलवार को देवेंद्र कुमार को एसीबी की टीम ने संविदा पर लगे शिक्षक मनोज कुमार से एक हजार रुपये की रिश्वत की राशि लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

ये भी पढ़ें: एटीएम सेंटरों में गिरोह ने किया चोरी का असफल प्रयास, जानिए क्यों?

रिश्वत के एक अन्य मामले में ब्यूरो के दल ने श्रीगंगानगर जिला अस्पताल के ईएनटी के सर्जन डा.रामावतार दायमा ने एक मरीज के कान के ऑपरेशन के लिये तीन हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी। ब्यूरो के उपाधीक्षक वेद प्रकाश लखोटिया ने बताया कि आरोपी जिला अस्पताल के ईएनटी सर्जन डा.दायमा ने परिवादी दीपक शर्मा से उनकी पत्नी के कान का ऑपरेशन करने की एवज में तीन हजार रुपये की मांग की थी।

आरोपी ने परिवादी से एक हजार रुपये पहले ले लिये थे। उन्होंने बताया कि आरोपी डा. दायमा को मंगलवार को मरीज के परिजनों से शेष दो हजार रुपये की रिश्वत की राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। दोनों आरोपियो के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।

Advertisement
Back to Top