पढ़ने की जगह ‘गंदे-धंधे’ में शामिल हैं दो दर्जन युवक युवतियां, अब छुपा रहे चेहरे

कान्सेप्ट फोटो  - Sakshi Samachar

इटावा : उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में क्राइम ब्रांच और महिला पुलिस ने एक संयुक्त टीम बनाकर जब आधा दर्जन ठिकानों पर छापेमारी की तो एक अजीबोगरीब तरह से चलने वाले सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ। पुलिस को इस दौरान लगभग दो दर्जन युवक युवतियां आपत्तिजनक हालत में मिले, इसमें ज्यादातर स्कूल कॉलेज में पढ़ने वाले नाबालिग छात्र छात्राएं भी शामिल हैं।

मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि पुलिस को पिछले कई दिनों से जिले में कई जगह पर सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिल रही थी। पुलिस ने इसके लिए सीओ सिटी और क्राइम ब्रांच के नेतृत्व में 8 टीमों का गठन किया था। सभी टीमों ने जनपद के अलग-अलग स्थानों पर लगभग आधा दर्जन ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की और वहां से आपत्तिजनक स्थिति में 2 दर्जन से अधिक युवक-युवतियों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

इसे भी पढ़ें :

लुटेरी दुल्हन का MP पुलिस ने किया पर्दाफाश, हिंदू बताकर पंडित से रचाई थी शादी

आशिक को गांव वालों ने बदमाश समझकर पीटा, चिल्लाकर बोला ‘मैं आशा का प्रेमी हूं’

पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार युवक युवतियों में तीन नाबालिग लड़कियां भी हैं जो पढ़ने के नाम पर अपने घर से बाहर आई थी और पैसे की लालच में इस तरह के धंधे में शामिल हो गई हैं। पुलिस ने इन लड़के-लड़कियों के पास से भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामान भी बरामद किए हैं।

पुलिस का कहना है कि अब इन लोगों की काम धंधे में जुड़ने की वजह को जाना जाएगा और उसी हिसाब से इनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। पुलिस ने कहा है कि फिलहाल रैकेट संचालकों की तलाश की जा रही है और इस तरह की कार्यवाही आगे भी जारी रहेगी ताकि जिले में इस तरह के रैकेट का सफाया किया जा सके।

Advertisement
Back to Top