आगरा : उत्तर प्रदेश के आगरा के खंदौली कस्बे में शनिवार को उस समय एक आशिक की शामत आ गई, जब वह अपनी प्रेमिका को देखने के लिए अपने दोस्त को लेकर आ गया। वह वहां अपने चेहरे पर कपड़ा बांधकर दोस्त के साथ गांव के चक्कर काट रहा था। ग्रामीणों ने बदमाश समझकर दबोच लिया और जमकर पिटाई कर दी।

जब आशिक को यह लगा कि अब उसकी जान नहीं बचेगी तो वह चीखने लगा कि वह बदमाश नहीं है, बल्कि आशा (काल्पनिक नाम) का प्रेमी है। बवाल होने पर ग्रामीणों ने उसके सिर पर चौराहा बना दिया।

बताया जा रहा है कि यह घटना शनिवार की शाम के समय की है। सादाबाद बॉर्डर के एक गांव की में दो युवक बाइक पर गांव के चक्कर काट रहे थे। उनके चेहरे पर कपड़ा बंधा हुआ था। ग्रामीणों को शक हुआ तो उनसे पूछताछ शुरू की। पूछताछ करते समय दोनों युवक घबरा गए। इसके बाद वह खेतों में भागने लगे। ग्रामीणों ने पीछा करके एक को दबोच लिया। बदमाश समझकर ही पीटना शुरू कर दिया। युवक चीखने लगा। कहने लगा कि बदमाश नहीं है। वह तो आशा का प्रेमी है।

इसे भी पढ़ें :

किशोरी को अगवा करके कार में ही किया गैंगरेप, सड़क पर फेंक भाग गए मनचले

अब लखनऊ के इस प्रेमी जोड़े को सताने लगा मौत का खतरा, कोर्ट में लगाई गुहार

प्रेमिका की उसी गांव में हुई थी शादी

जान बचाने के लिए उसने ग्रामीणों को बताया कि छह माह पहले उसकी प्रेमिका की इस गांव में शादी हुई थी। वह तो सिर्फ उसे देखने आया था। जैसे ही उसकी प्रेमिका आशा के घर आई तो लोग उससे सच्चाई जानने की कोशिश करने लगे तो लड़की ने भी जान देने की कोशिश की । वह खुद को करंट लगाकर मरने की बात कहने लगी। घर वाले आनन-फानन में उसे हॉस्पिटल लेकर भागे।

उधर पुलिस ने पहुंचकर आरोपित युवक को हिरासत में लिया। उसने पुलिस को बताया कि दोस्त को वह एक हजार रुपये का लालच देकर प्रेमिका से मिलने के लिए उसकी बाइक को लेकर आया था।