हैदराबाद : अश्लील वेबसाइटों और डेटिंग एप पर महिलाओं के कथित फोटो डालने के बाद उन्हें ब्लैकमेल करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। खुद को वैश्विक आईटी कंपनी में सिक्योरिटी इंजीनियर बताने वाले युवक ने करीब 300 लड़कियों और महिलाओं से उनके फोटो हटाने के नाम पैसे वसूले। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी।

हैदराबाद पुलिस की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार आरोपी विशाखापट्टनम निवासी युवक ने अलग-अलग सोशल मीडिया मंचों पर करीब 300 लड़कियों एवं महिलाओं को अपना शिकार बनाया। इनसे पैसे मांगने के बाद उनका शोषण करने की भी कोशिश की। विज्ञप्ति के अनुसार एक महिला ने साइबर अपराध पुलिस में शिकायत की जिसमें उसने कहा कि आरोपी ने विभिन्न मीडिया मंचों, अश्लील और डेटिंग ऐप्स से इन तस्वीरों को हटाने का प्रस्ताव दिया और इसके एवज में हर महीने 10,000 रुपये देने की मांग की।

पुलिस ने बताया, ‘‘उसकी बातों पर विश्वास कर महिला ने उसे चार महीने के लिये जनवरी 2019 से अप्रैल 2019 तक के लिये 40,000 रुपये का भुगतान किया। लेकिन उसे महसूस हुआ कि आरोपी सच नहीं कह रहा और उसने पैसे देना बंद कर दिया।''

इसे भी पढ़ें :

हैदराबाद के आउटर रिंग रोड पर युवक ने की आत्महत्या की कोशिश

आंध्र प्रदेश : घर से बाहर गई थी दादी, पड़ोसी ने मासूम के साथ की हैवानियत

पुलिस ने बताया कि इसके बाद महिला के फोन नंबर के साथ उसकी तस्वीरें विभिन्न डेटिंग ऐप्स और अश्लील साइटों पर फिर से अपलोड कर दी गयीं। जब उसने आरोपी से संपर्क किया तो उसने और अधिक पैसे मांगे।

पुलिस ने बताया फोन नंबर सार्वजनिक होने से महिला के पास कई लोगों के फोन आने लगे, जिसके बाद उसने शिकायत दर्ज करायी। उसकी शिकायत के आधार पर आईपीसी की संबंधित धाराओं और आईटी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।