राजकोट : गुजरात में राजकोट से मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक एक नाबालिग लड़की से कुछ लोगों ने उस वक्त अपना हवस का शिकार बनाया जब वह अपने प्रेमी से मिलने जा रही थी। मामला राजकोट के रैयाधार क्षेत्र की है।

मिली जानकारी के अनुसार, पीड़िता जब रास्ते में थी तो दो लोगों ने खुद को लड़की के प्रेमी का दोस्त बताया। उसे कार में बिठा लिया। फिर, हवस का शिकार बनाकर बस स्टेशन पर छोड़ गए। बाद में एक रिक्शा चालक भी उसको प्रेमी से मिलाने के बहाने आजीडेम ले गया। जहां उसने भी बलात्कार किया। किसी तरह वह घर लौटी।

घर पहुंच कर पीड़िता ने परिजनों को आपबीती सुनाई। इसके बाद परिजनों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। मामला दर्ज होते ही पुलिस हरकत में आई और ऑटो रिक्शा चालक को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन कार वाले दरिंदे नहीं पकड़े जा सके।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़िता की उम्र 16 वर्ष बताया जा रहा है और वह संतकबीर रोड के रहने वाले संजू नाम के युवक से प्रेम करती है। दो दिन पहले संजू द्वारा उसे बुलाया गया तो वह संतकबीर रोड पर पहुंची। जहां वह संजू को ढूंढ रही थी। तभी उस पर जयेश और गोपाल नाम के युवक संजू का दोस्त बताकर नाबालिग को कार में ले गए। फिर दोनों ने कार में बारी-बारी से बलात्कार किया। इसके बाद बस स्टेशन पर उतारकर फरार हो गए।

इसे भी पढ़ें :

गुजरात में दम घुटने से चार सफाईकर्मी सहित 7 लोगों की मौत

वह डरी-सहमी बस स्टेशन पर ही रातभर बैठी रही। फिर उस पर एक रिक्शे चालक की भी नजर पड़ गई। वह सुबह उसकी मदद करने और आरोपियों तक पहुंचाने के बहाने उसे आजीडेम ले गया। जहां उसने भी बलात्कार किया। वह किसी तरह उसके चंगुल से छूटी और घर वापस आई।

दो दिनों से गायब बेटी के घर लौटने पर परिजनों ने राहत की सांस ली। लेकिन जब उसने अपनी आपबीती सुनाई तो घर वालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। फिर वे पीड़िता को पुलिस थाना ले गए। पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की और आरोपियों की धर-पकड़ में जुट गई।