महिलाओं की हत्या कर लाश से करता था घिनौना काम, सच्चाई जान सन्न रह जाएंगे आप

कम्मर्जुमान सरकार (फाइल फोटो)  - Sakshi Samachar

कोलकाता : तेलंगाना में खलबली मचाने वाले हाजीपुर के साइको व सीरियल किलर श्रीनिवास रेड्डी की करतूतों को याद करने पर आज भी दिल दहल उठता है। नाबालिगों व युवतियों की निर्मम हत्या कर उनकी लाशों के साथ अपनी हवस को मिटाने का तरीका आम लोगों के साथ पुलिस भी हैरान रह गई।

इसी तरह के एक और साइको पश्चिम बंगाल में फिलहाल पुलिस की कस्टडी में कैद है। साइकिल चेन और रॉड से महिलाओं की हत्या कर खून से लदी उनकी लाशों के साथ हैवानियत को अंजाम देता था। इस तरह अब तक पांच महिलाओं की हत्या कर उनकी लाशों के साथ अपनी हवस मिटाने वाला आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया।

यह है पूरा मामला

पश्चिम बंगाल के बर्द्वान जिले के कम्मर्जुमान सरकार (42) एक छोटा व्यापारी है। दोपहर के वक्त घरों पर अकेली रहने वाली महिलाओं को टॉरेगट बनाकर वह अपनी हैवानियत को अंजाम देता था। करंट बिल के नाम पर घर में घुसता था और मौका देखकर महिलाओं के सिर पर रॉड से हमला करता था। उसके बाद भी अगर उनकी मौत नहीं होने पर गले में साइकिल चेन कसकर उनकी हत्या कर देता था।

बाद में उस लाश के साथ अपनी घिनौनी करतूत को अंजाम देता था। कम्मर्जुमान सरकार 2013 से इस तरह की कारनामों को अंजाम दे रहा था, लेकिन पाप का गढ़ा भर जाने से पिछले महीने पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पिछले महीने की 21 तारीख को गोरा गांव में एक महिला को इसी तरह खत्म कर पुलिस के हाथ लगा। पूछताछ में एक के बाद एक उसके कारनामों का खुलासा हुआ।

2013 से अब तक इसी तरह चार महिलाएं हत्या की शिकार हुईं। उनमें कम्मर्जुमान सरकार की भूमिका के बारे में जानने की कोशिश की, तो उसने उन चारों महिलाओं की हत्या करने की बात कबूली। उसने बताया कि उसपर किसी को शक न हो, इसके लिए वह जिस घर में हत्या करता था, वहां से कुछ कीमती सामान चुरा ले जाता था ताकि पुलिस समझे कि यह काम चोरों का काम है।

इसे भी पढ़ें :

पड़ोसी के सामने महिला से 5 युवकों ने किया गैंगरेप,वो मिन्नतें करता रहा, हंसते हुए दरिंदे बनाते रहे वीडियो

अब तक सरकार के हाथों हत्या की शिकार हुईं सभी महिलाएं वयस्क थीं। पुलिस ने बताया कि सरकार शादीशुदा और उसके तीन बच्चे हैं। पुलिस को शक है कि पत्नी के साथ झगड़े के कारण ही कुम्मर्जुमान सरकार इस तरह की हरकतें कर रहा होगा। आरोपी से कुछ अन्य जानकारी हासिल करने के लिए उसे 12 दिन के लिए पुलिस हिरासत में लिया गया है।

Advertisement
Back to Top