चंद्रपुर : महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिला स्थित नर्सिंग कॉलेज की एक छात्रा के यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराने के बाद कांग्रेस के पूर्व विधायक सुभाष धोते और राजुरा नगरपालिका अध्यक्ष अरुण धोते को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुभाष राजुरा के ‘कल्याण नर्सिंग एजुकेशन इंस्टीट्यूशन' के अध्यक्ष है जिसमें वह महिला पढ़ती थी। वहीं अरुण उस संस्थान के सचिव है। राजुरा पुलिस थाना निरीक्षक बी एम गैगोले ने बताया कि महिला ने आरोप लगाया कि तत्कालीन प्रधानाचार्य ने पिछले साल उससे यौन संबंध बनाने को कहा था, जिससे उसने इनकार कर दिया। उसके मना करने के बाद उसे संस्थान से निकाल दिया गया।

कांसेप्ट फोटो
कांसेप्ट फोटो

इसे भी पढ़ें :

महाराष्ट्र के बुलढाणा में सड़क हादसे में 13 की मौत, 3 अन्य की हालत गंभीर

‘Virginity test’ को दंडनीय अपराध घोषित करेगी महाराष्ट्र सरकार

उन्होंने बताया कि सुभाष ने तत्कालीन प्रधानाचार्य के खिलाफ की गई शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की, जिसके बाद पिछले साल अक्टूबर में छात्रा को संस्थान और छात्रावास से निकाल दिया गया। शिकायकर्ता ने आरोप लगाया कि राजुरा के एक आवासीय स्कूल में दो आदिवासी लड़कियों के साथ यौन शोषण की घटना के अप्रैल में सामने आने के बाद सुभाष और अरुण ने उसकी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए एक व्यक्ति को रखा।

अधिकारी ने कहा, ‘‘ लगातार उसका पीछा किए जाने की वजह से छात्रा ने सुभाष, अरुण और कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य के खिलाफ इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई।'' सुभाष और अरुण के खिलाफ भादंवि की यौन उत्पीड़न और अपराधिक धमकी संबंधी विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। बल्लारपुर में न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (जेएमएफसी) की अदालत में उन्हें पेश किया गया, जहां से उन्हें 24 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।