नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली में बुधवार तड़के सम्पत्ति को लेकर हुए विवाद में एक 22 साल युवक ने अपने पिता की हत्या कर दी और इसके बाद शव के 25 टुकड़े कर दिए। पुलिस ने यह जानकारी दी। अमन को उसके एक दोस्त के साथ शाहदरा में उसके घर के बाहर से गिरफ्तार कर लिया गया। उस वक्त ये दोनों शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने का प्रयास कर रहे थे।

पिता पर डाल रहा था प्रॉपर्टी के लिए दबाव

पुलिस के अनुसार, अमन शाहदरा के फर्श बाजार इलाके में एक छोटा सा कैफे चलाता है। भोलानाथ नगर में स्थित एक सम्पत्ति को उसके नाम करने के लिए वह अपने पिता संदेश अग्रवाल (48) पर दबाव डालता रहता था।अमन का बड़ा भाई और उसकी मां पिछले कुछ दिनों से मनाली में हैं। इस दौरान अमन व उसके पिता घर पर अकेले थे

पिता को घोंपा कई बार चाकू

डीसीपी (शाहदरा) मेघना यादव ने कहा, "मंगलवार की रात दोनों में फिर से उसी बात को लेकर बहस हुई और गुस्से में आकर पहले उसने अपने पिता के साथ हाथापाई की और फिर कई बार उन्हें चाकू घोंपा।"

दोस्त के साथ मिलकर किए शव के 25 टुकड़े

एक अन्य पुलिस अफसर ने कहा, "बाद में शव को ठिकाने लगाने के लिए उसने अपने एक दोस्त को बुलाया। दोनों ने शव के 25 टुकड़े किए और प्लास्टिक के दो बैग और चिकन शॉप से लाए गए काले रंग के पॉलीथिन के पैकेट में उन्हें डाला।"

इसे भी पढ़ें बिहार का निकला हैदराबाद में लावण्या का हत्यारा, टुकड़े कर सूटकेस में डाली थी लाश

पड़ोसी ने आधी रात को दी पुलिस को सूचना

एक पड़ोसी ने अपने बालकनी से अमन और उसके दोस्त को खून के धब्बे लगे दो बैग और प्लास्टिक पैकेट को गाड़ी में रखते हुए देखा।

उस शख्स ने तुंरत रात के दो बजकर सात मिनट पर इसकी सूचना पुलिस को दी। स्थानीय पुलिस की एक टीम वहां पहुंची और उन दोनों को गिरफ्तार कर लिया।यह घटना डीसीपी कार्यालय और फर्श बाजार पुलिस स्टेशन से मुश्किल से 300 मीटर की दूरी पर हुई।