प्रयागराज : उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक व्यापारी की तिजोरी से लगातार पैसे गायब हो रहे थे, इससे व्यापारी बहुत परेशान था। परेशान इसलिए भी था कि घर में सिर्फ तीन ही लोग थे। पति-पत्नी और उनकी बेटी। परेशान व्यापारी ने बेटी और पत्नी से एक पूछताछ की, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। आखिर व्यापारी ने अपने वकील दोस्त की मदद से घर में चुपचाप सीसीटीवी कैमरा लगा दिया।

घर में सीसीटीवी कैमरा लगाते ही मामले का राजफाश हो गया। साथ बेटी का भी चौंकाने वाला सच सामने आ गया। दरअसल, तिजोरी से व्यापारी की बेटी ही पैसे निकाल रही थी। राज सामने आने के बाद छात्रा बिफर पड़ी और रोते हुए परिजनों को आपबीती सुनाई।

छात्रा ने बताया, स्कूल में पढ़ने वाले 12वीं के एक छात्र ने उसका वीडियो बना लिया है और वह वीडियो सोशल मीडिया पर डालकर वायरल करने की धमकी दे रहा है। वीडियो इंटरनेट पर ना डालने की एवज में उसने पैसे मांगे तो पहली बार उसे घर से चोरी कर पैसे दे दिए, इसके बाद वह छात्रा को लगातार ब्लैकमेल करता रहा और वह पिता की तिजोरी से पैसे निकालकर उसे देती रही।

पुलिस के अनुसार, ब्लैमेलिंग की शुरुआत 50 हजार रुपए से हुई थी। इसके बाद छात्र, दबाव बनाकर छात्रा से 25 हजार और 50 हजार रुपए की किश्त में पैसे लेता था, लेकिन पिता की तिजोरी से जब काफी पैसे कम होते गए तो घर में हड़कंप मचा।

इसे भी पढ़ें :

उत्तर प्रदेश में भाजपा नेता की दबंगई, जिलाधिकारी पर उठाया हाथ

थाने में दी गई तहरीर के अनुसार, आरोपी छात्र भी करेली थाना क्षेत्र के सूलपुर इलाके का ही रहने वाला है। तहरीर के अनुसार, अब तक छात्रा ने उसे 8 लाख 35 हजार रुपए दिए हैं।

राज खुलने के बाद पिता, बेटी के साथ थाने पहुंचे और मामले में छात्र के विरूद्ध थाने में तहरीर दी गई, जिसके बाद आरोपी छात्र के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने छात्र की गिरफ्तारी का प्रयास किया, लेकिन वह घर से फरार है।

मामले में पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है। छात्रा के परिजन बदनामी के डर से अपनी पहचान सामने नहीं लाना चाह रहे हैं। हमें तहरीर मिली है, छात्र घर से फरार है, उसे पकड़ने के बाद राजफाश हो सकेगा।