हैदराबाद: राचकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत ने कहा कि गैरकानूनी काम करने के मामले में तीन डॉक्टरों को गिरफ्तार किया गया। इब्राहिमपटनम और डायग्नोस्टिक के तीन सेंटरों पर छापा मारा गया। इब्राहिमपटनम में एक और मेडिपल्ली में दो डायग्नोस्टिक सेंटरों में गैरकानूनी काम किया जा रहा था।

महेश भागवत कहा कि तीनों डॉक्टर गर्भवती महिलाओं का लिंग निर्धारण कर गर्भपात कर रहे थे। स्थानीय शी-टीम के सहयोग से सेंटरों पर छापा मारा गया। डॉक्टर नंदकिशोर के साथ अन्य दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया गया।

इसे भी पढ़ें:

HC ने नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को 22 हफ्ते के भ्रूण को गिराने की इजाजत दी

गर्भवती महिलाओं का लिंग निर्धारण के बाद कन्या भ्रूण होने ने पर गर्भपात कर महिलाओं से राशि वसूल रहे थे। उन्होंने कहा कि गर्भपात के दौरान गर्भवति महिला की जान जाने की संभावना अधिक होती है। इस मामले को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) को रपट सौंपी जाएगी। IMA के अंतर्गत डॉक्टरों के खिलाफ कानूनन कार्रवाई करेंगे।