जयराम की हत्या की सुई शिखा पर, विवाहेतर संबंध को लेकर है पुलिस का संदेह

शिखा चौधरी - Sakshi Samachar

हैदराबाद: जयराम चिगुरुपाटी की भांजी शिखा चौधरी पर हत्या का संदेह व्यक्त किया जा रहा है। हैदराबाद में शिखा चौधरी के अपार्टमेंट के वॉचमेन ने बताया कि जयराम विदेश से हमेशा रात में ही आते थे। अपार्टमेंट में रात में रहने के बाद विजयवाड़ा जाते थे। इसी क्रम में 29 जनवरी की रात विदेश से हैदराबाद आने के बाद रात में शिखा के घर पर रूके थे। पुलिस संदेह व्यक्त कर रही है कि जयराम और शिखा के बीच विवाहेतर संबंध हो सकते हैं। जांच में पता चला कि जयराम की संदेहास्पद मौत जिस दिन हुई उस रात 11 शिखा अकेली कार लेकर जल्दबाजी में बाहर निकल गई थी।

जयराम की मौत को लेकर पुलिस को पुख्ता सबूत मिले हैं। इन सबूतों के आधार पर बताया गया कि जयराम की हत्या की योजना हैदराबाद में बनाई गई। बता दें कि जयराम की मौत को लेकर पुलिस ने अब तक परिवार के सदस्य, रिश्तेदार, मित्रों और कोस्टल बैंक के कर्मचारियों से पूछताछ की। इस क्रम में संदेह व्यक्त किया गया कि जयराम की हत्या के मामले में शिखा पर शक की सुई पहुंच रही है।

इसे भी पढ़ें:

NRI जयराम की संदेहास्पद मौत की जांच जारी, पुलिस इनसे कर रही पूछताछ

डस्पल्ला होटल में दस दिनों के लिए जयराम के नाम कमरा बुक किया गया। यहीं पर गुरुवार को फार्मा कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक हुई। यहां से जयराम सफेद कुर्ता पहने एक व्यक्ति के साथ कार में जाने के सबूत पुलिस को मिले हैं। पतंगी टोल गेट के निकट लगे CCTV फुटेज से पता लगा है कि जयराम के साथ अन्य एक व्यक्ति कार में सवार था। सफेद कुर्ता पहने व्यक्ति कार चला रहा था। कार में मिली शराब की बोतलों से बताया जा सकता है कि जयराम की हत्या की योजना हैदराबाद में बनाई गई।

Advertisement
Back to Top