मेरठ: मेरठ में दूल्हा-दुल्हन से मारपीट, लूटपाट और गाड़ियों में तोड़फोड़ के मामले में सपा नेता सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। वहीं भावनपुर क्षेत्र के पचपेड़ा गांव में मंगलवार को अमन व भाईचारे का माहौल देखने को मिला।

बागपत के दोघट थाना क्षेत्र के मोजाबाद नागल निवासी ललित शर्मा की शादी रविवार को परीक्षितगढ़ क्षेत्र के अल्लीपुर आलमपुर निवासी योगेंद्र की बेटी मानसी के साथ हुई थी। रविवार रात बारात लौटते समय पचपेड़ा गांव में दुल्हन की तबीयत खराब हो गई थी। इस दौरान दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति की दुकान के सामने कार रोकने पर कुछ लोगों ने दुल्हन पर टिप्पणी कर दी थी, जिसका विरोध करने पर दूसरे समुदाय के युवकों ने दूल्हा-दुल्हन से अभद्रता और मारपीट करने के अलावा दुल्हन से लाखों के आभूषण और नकदी लूट ली थी।

यह भी पढ़ें:

मेरठ में हिंदू अदालत, जज बोलीं - “गोडसे से पहले पैदा होती तो गांधी को मैं मारती”

बारात की अन्य गाड़ियों में तोड़फोड़ कर बारातियों पर लाठी-डंडों से हमला बोला था। इस मामले में दुल्हन के भाई की तहरीर पर भावनपुर पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ बलवा, डकैती आदि संगीन धाराओं में केस दर्ज किया था।

इस घटना को लेकर सोमवार को भाजपाइयों के साथ पहुंचे खजूरी, अल्लीपुर, दबथला और कुलीपुर गांव के सैकड़ों लोगों ने भावनपुर थाना घेर लिया। एसओ भावनपुर ऊधम सिंह तालान और पुलिसकर्मियों के खिलाफ नारेबाजी कर दी। सूचना पर एसपी क्राइम डॉ. बीपी अशोक और सीओ सदर देहात चक्रपाणि त्रिपाठी पुलिस और पीएसी के साथ पहुंचे।

भाजपा नेताओं और ग्रामीणों ने कहा कि वीडियो फुटेज में जो भी आरोपी वारदात करते नजर आ रहे हैं, उन्हें भी गिरफ्तार किया जाए। सभी नामजद के अलावा अज्ञात आरोपी भी पहचान कर जेल भेजे जाएं।

इस मामले में दुल्हन के भाई गौरव शर्मा पुत्र प्रवेश शर्मा ने तहरीर दी। उसके मुताबिक, सपा नेता आरिफ चौहान के घर के बाहर उक्त घटना हुई। उसमें सपा नेता के बेटे शाहबाज और शादाब शामिल रहे। शाहबाज और शादाब भी सपा की राजनीति में सक्रिय हैं।

पुलिस ने तहरीर के आधार पर शाहबाज व शादाब के अलावा पचपेड़ा निवासी कामरान, नदीम, यूसुफ, बहादुर, और इमरान को नामजद कर 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ लूटपाट, तोड़फोड़, बलवा, जानलेवा हमला व दुल्हन से बदसलूकी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सीओ सदर देहात ने बताया कि डकैती और बलवे में पुलिस ने आरोपी यूसुफ, रिजवान, इमरान, जियाउल हक और शाहआलम को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। छठा आरोपी नाबालिग है, जिसकी जांच की जा रही है।