नेल्लूर: TDP के उदयगिरी के विधायक की गिरफ्तारी को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने स्वीकृति दे दी है। ACB के अधिकारी आंध्र प्रदेश के विधायक की गिरफ्तारी को लेकर कार्रवाई कर रहे हैं। महाराष्ट्र में सिंचाई परियोजना के निर्माण की लागत बढ़ा कर 20 हजार करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप उन पर है। यह जानकारी नागपुर ACB के DSP ने दी।

बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र में सिंचाई योजनाओं के निर्माण में लागत बढ़ा कर 20 हजार करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप विधायक पर लगाया गया। महाराष्ट्र की उच्च न्यायालय के आदेश पर विधायक की गिरफ्तारी स्थगित हुई। हाल ही में उच्च न्यायालय ने इस आदेश को खारिज कर दिया। उच्च न्यायालय के इस निर्णय के बाद महाराष्ट्र सरकार ने विधायक की गिरफ्तारी को लेकर स्वीकृति दी है।

इसे भी पढ़ें:

केंद्र ने पोलावरम परियोजना में धांधली को सही ठहराया

बता दें कि आंध्र प्रदेश, उदयगिरी के TDP के विधायक बोल्लिनेनी वेंकट रामाराव पर सिंचाई योजनाओं की लागत बढ़ा कर 20 हजार करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप है। विधायक ने परियोजनाओं के निर्माण का जिम्मा सब-ठेकेदारों को सौंपा और बिल की वसूली के बाद राशि का भुगतान उन्हें नहीं किया। इसके अलावा उदयगिरी निर्वाचन क्षेत्र में 208 चेक डैम के कार्य से संबंधित बिल लगभग 9 करोड़ रुपये विधायक ने रोक दिये। इसकी वसूली को लेकर अन्य 15 सब-ठेकेदार कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं।