विशाखापट्टणम : आंध्र प्रदेश में विपक्षी के दल के नेता और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी पर जान लेवा हमला करने वाले आरोपी श्रीनिवास राव को एनआईए के हवाले कर दिया गया।

जेल अधिकारियों को आदेश मिलते ही श्रीनिवास को एनआईए के हवाले कर दिया गया। गुरुवार देर रात को श्रीनिवास को विशाखा से विजयवाडा लाया गया।

इसे भी पढ़ें :

YS जगन पर हमला: CISF और AP पुलिस सुरक्षा जिम्मेदारियों से झाड़ रहे पल्ला

YS जगन हत्या प्रयास मामला NIA के हवाले, अधिवक्ता बोले- न्याय की बड़ी जीत

दूसरी ओर विशाखा मेट्रोपॉलिटन मेजिस्ट्रेट ने श्रीविवास की जमानत याचिका खारिज कर दिया। मेजिस्ट्रेट ने कहा कि मामला एनआईए के हवाले कर दिया गया। श्रीनिवास राव की जमानत याचिका कोर्ट परिधि में नहीं आता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए याचिका को खारिज कर दिया।

आपको बता दें कि 25 अक्तूबर को वाईएसआरसीपी के प्रमुख और आंध्र प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी पर आज जानलेवा हमला किया गया। हमले में वाईएस जगन के बाएं हाथ में गंभीर घाव भी हुआ है।

वाईएस जगन मोहन रेड्डी आज विशाखापट्टणम एयरपोर्ट में लॉंज में बैठे हुए थे कि तभी एक वेटर सेल्फी लेने के बहाने उनके पास आया और ब्लेड जैसे एक हथियार से उनपर हमला कर दिया। हमले में वाईएस जगन के बाएं हाथ में गंभीर चोट आई और रक्तस्राव भी हुआ।

वाईएस जगन आज अपनी प्रजा संकल्प यात्रा पूरी करने के बाद हैदराबाद रवाना होने के लिए विजयनगर से विशाखापट्टणम हवाई अड्डा पहुंचे थे। हमले में इस्तेमाल किए गए हथियार में जहर लगे होने के संदेह भी व्यक्त हो रहे हैं। हालांकि बाद में डॉक्टरों ने इसे खारिज किया है। एहतियात के तौर पर हैदराबाद स्थित सिटी न्युरो हॉस्पिटल में जगन मोहन स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं।

कड़ी सुरक्षा वाले विशाखापट्टणम हवाई अड्डेे पर विधानसभा में विपक्ष के नेता वाईएस जगन मोहन रेड्डी पर हुए हमले के बाद राज्य में वाईएसआरसीपी नेताओं की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं।