नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली में बीते साल हर दिन औसतन पांच महिलाओं से बलात्कार और आठ महिलाओं का उत्पीड़न हुआ है। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को इसकी जानकारी दी।

दिल्ली पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक बीते साल बलात्कार के 2,043 मामले दर्ज किये गए। 2017 में यह संख्या 2,059 जबकि 2016 में 2,065 थी। बीते साल उत्पीड़न के 3,175 मामले सामने आए। 2017 में यह संख्या 3,275 और 2016 में 4,032 थी।

पुलिस ने कहा कि बलात्कार के ज्यादातर मामलों में आरोपी पीड़िता के परिचित निकले। दिल्ली पुलिस के विश्लेषण के मुताबिक बलात्कार के 43 प्रतिशत मामलों में आरोपी या तो दोस्त या पारिवारिक दोस्त निकले।

इसे भी पढ़ें :

दिल्ली पुलिस ने माना वर्ष 2018 में हुआ आपराधिक मामलों में इजाफा

16.25 प्रतिशत मामलों में पड़ोसी, 2.89 प्रतिशत मामलों में सहकर्मी और 22.86 प्रतिशत मामलों में दूसरे जानकार लोग आरोपी निकले। पुलिस ने कहा कि महज 2.5 प्रतिशत मामलों में ही आरोपी पीड़ित के अपरिचित निकले।

हालांकि बीते वर्षों के मुकाबले इसमें कमी आई है। दिल्ली पुलिस ने महिला सुरक्षा को लेकर दिल्ली सरकार से कई अनुरोध किये हैं, जिनमें झुग्गी झोपड़ियों और महिलाओं के खिलाफ अपराध की ज्यादा घटनाओं वाले इलाकों में जागरुकता और शिक्षा कार्यक्रम चलाने, अंधेरे वाली जगहों पर लाइटें लगाने और विद्यालय में आत्मरक्षा का पाठ्यक्रम शुरू करने जैसे अनुरोध शामिल हैं।