मेरठ : उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में प्रेम-प्रसंग के मामले में युवक की हत्या कर शव को कार में डालकर जलाने की सनसनीखेज घटना सामने आई है । पुलिस ने २4 घंटे के अंदर ही घटना का खुलासा कर दो आरोपी हमलावरों (पिता-पुत्र) को गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तार अभियुक्तों ने हत्या करने की बात कबूल करते हुए बताया कि उन्होंने समाज में परिवार की बदनामी के डर से हत्या की है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि कल रात थाना गंगा नगर क्षेत्र में एक जली हुई गाड़ी मिली थी ।इसके अंदर एक जला हुआ शव भी मौजूद था। बुरी तरह जला होने के कारण शव की शिनाख्त नही हो पायी है ।

उन्होने बताया कि बहुत प्रयासों के बाद गाड़ी के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर उसके मालिक की पहचान संजीव उर्फ शैंकी (२५) निवासी चंढेरी थाना मवाना के रूप में हुई ।

अधिकारी ने बताया कि संजीव का पल्लवपुरम की एक लड़की से करीब दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। घटना की रात लड़की से मिलने संजीव उसके घर गया था। परिजनों ने अपनी बदनामी होने के डर से लड़के की गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शव को उसी की गाड़ी में रख कर उसे जला दिया।

इसे भी पढ़ें :

नाबालिग लड़की से रेप करने से पहले एेसे की जाती थी हैवानियत, तांत्रिक के साथ शामिल था परिवार

उन्होंने बताया कि घटना के संबंध में मृतक के फुफेरे भाई विकास कुमार की तहरीर के आधार पर थाना गंगानगर पुलिस ने गुलाब सिंह पुत्र खचेड़ू और उसके दो पुत्रों पम्मी सिंह, जोनी उर्फ विशाल के अलावा राहुल पुत्र ओमवीर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और गुलाब सिंह तथा पम्मी सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है ।

दोनो ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है ।