बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सोमवार को कथित गोहत्या के बाद तनाव जारी है। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री आजम खान ने बड़ा सवाल खड़ा किया। आजम के मुताबिक जांच इस बात की होनी चाहिए कि उस इलाके में गोश्त लाया कौन? आजम ने दावा किया कि वो हिंदू बहुल इलाका है और वहां गोश्त जानबूझकर लाई गई थी ताकि हिंसा भड़के।

आजम खान के बयान की तस्दीक राज्य का खुफिया विभाग भी करता है। घटना से पहले ही इंटेलिजेंस ने इनपुट्स दिए थे कि इलाके में कुछ लोग सांप्रदायिक हिंसा भड़काने की फिराक में है। बावजूद पुलिस प्रतिरोधात्मक कार्रवाई करने में विफल रही।

हिंसा के दौरान एक पुलिस अधिकारी भी शहीद हो गए। पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार समेत दो लोगों की मौत के बाद अब प्रशासन हरकत में है। पुलिस ने बजरंग दल नेता सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही दर्जनों लोगों के खिलाफ या तो नामजद या फिर अज्ञात के तौर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें:

बेमियादी खौफ में जी रहा मुसलमान, देश में गृहयुद्ध की स्थिति: आजम खान

आसन्न लोकसभा चुनाव को देखते हुए नेता भी इस घटना पर सियासी रोटियां सेंकने में लगे हैं। ऐसे में अगर पुलिस सतर्क नहीं होगी तो लंबे समय तक इलाके में माहौल खराब रह सकता है। साथ ही हिंसा की आंच आस पास के इलाकों में भी फैल सकता है।