मेरठ : उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र के राजमार्ग स्थित ब्लैक पेपर रेस्तरां में शुक्रवार रात दरोगा और उनकी महिला अधिवक्ता मित्र से मारपीट के आरोप में रेस्तरां मालिक एवं भाजपा पार्षद मनीष चौधरी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही, दरोगा को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

पुलिस ने मनीष चौधरी के खिलाफ दो मामले दर्ज किए हैं। पहला मामला महिला अधिवक्ता की ओर से दर्ज कराया गया है जिसमें भाजपा पार्षद पर छेड़छाड़, मारपीट और लूटपाट करने का आरोप है। दूसरा मामला दरोगा की तरफ से दर्ज कराया गया है जिसमें उन्होंने कहा है कि घटना के समय वह ड्यूटी पर थे और ड्यूटी के दौरान भाजपा पार्षद और उनके साथियों ने उनके साथ मारपीट की तथा सरकारी कार्य में बाधा डाली।

नगर पुलिस अधीक्षक रणविजय सिंह के अनुसार इसके अलावा पार्षद को ले जा रही पुलिस वैन की चाबी छीनने, गाड़ी का घेराव करने और जाम लगाने के मामले में भी तीसरा मामला दर्ज किया जाएगा। पार्षद पक्ष की तरफ से भी तहरीर दी गई है, उस पर भी प्राथमिकी दर्ज कर जांच की जाएगी।

वहीं, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने दारोगा को देर रात लाइन हाजिर कर दिया। आरोप है कि कल रात परतापुर थाने के मोहिदीनपुर चौकी प्रभारी सुखपाल सिंह अपनी महिला मित्र अधिवक्ता के साथ शराब के नशे में ब्लैक पेपर रेस्तरां में खाना खा रहे थे। इस बीच, खाना देर से आने को लेकर महिला अधिवक्ता ने हंगामा कर दिया और सामान फेंक दिया। इस बीच रेस्तरां प्रबंधक और मालिक एवं भाजपा पार्षद मनीष चौधरी ने इसका विरोध किया और दरोगा के साथ मारपीट कर दी।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दरोगा को थाने ले आई। इसके बाद दरोगा और महिला अधिवक्ता का मेडिकल भी कराया गया, जिसमें शराब की पुष्टि हो गई।

यह भी पढ़ें :

मेरठ में सगी बहन के साथ 5 साल तक रेप करते रहे दो भाई

Video: मेरठ नगर निगम की बैठक में हाथापाई और धक्का-मुक्की

पुलिस क्षेत्राधिकारी दौराला पंकज कुमार सिंह ने बताया कि देर रात महिला वकील की तहरीर पर पुलिस ने भाजपा पार्षद मनीष चौधरी के खिलाफ लूटपाट, छेड़छाड़ और मारपीट का मामला दर्ज कराया है। इसमें तीन-चार अज्ञात आरोपियों के भी नाम हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने क्षेत्राधिकारी की रिपोर्ट पर दरोगा सुखपाल सिंह को देर रात लाइन हाजिर कर दिया।