नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में हथियार बनाने की अवैध फैक्ट्री चलाने के आरोप में पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है और उनके कब्जे से 84 पिस्तौलें जब्त की गई हैं।

पुलिस ने मंगलवार को बताया कि आरोपी मुंगेर से कच्चा माल लाते थे और मेरठ की फैक्ट्री में हथियारों को जोड़ते थे और फिर दिल्ली और हरियाणा के आसपास के इलाकों में उनकी आपूर्ति करते थे।

संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों की पहचान मोहम्मद शैदुल्लाह (37), मोहम्मद शब्बीर (32), मोहम्मद इम्तियाज (29), मोहम्मद उबैद (33) और नसीम (25) के तौर पर हुई है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग एक पर सिंधू सीमा के पास जाल बिछाया जहां वे आरोपियों को सोमवार को हथियारों के बड़े जखीरे की आपूर्ति करने आए थे।

इसे भी पढ़ें :

Breaking : उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बड़ा ट्रेन हादसा, 5 लोगों की मौत

बिहार में राजद विधायक के घर से बरामद हुए अवैध हथियार, 1 गिरफ्तार

इसके बाद पुलिस ने सिल्वर रंग की एक कार को देखा जो घटनास्थल की ओर जा रही थी और उसे रूकने का इशारा किया लेकिन कार चला रहे शैदुल्ला ने पुलिस की नाकेबंदी को पार करने की कोशिश की और पिस्तौल निकालकर पुलिस दल पर गोली चला दी। इसके बाद पुलिस ने जवाबी गोली चला कर आरोपी शैदुल्ला और नसीम को दबोच लिया।

विशेष प्रकोष्ठ के पुलिस उपायुक्त संजीव कुमार यादव ने बताया कि उनके कब्जे से 63 पिस्तौलें जब्त की गईं। बाद में मेरठ में फुरकान के मिल्कियत वाले घर पर छापेमारी की और शब्बीर, इम्तियाज तथा उबैद को पकड़ लिया। यादव ने बताया कि उनके कब्जे से 19 और पिस्तौलें और कच्चा माल जब्त किया।