हैदराबाद में बड़े पैमाने पर NIA का छापा, ISIS से जुड़े संदिग्धों का पता चला

तलाशी अभियान चलाती पुलिस - Sakshi Samachar

हैदराबाद: वर्ष 2016 में एनआईए द्वारा दर्ज आबुधाबी मॉड्युल मामले में कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। इस मामले में हैदराबाद में 12 लोगों पर संदेह व्यक्त किया जा रहा है। इनमें 7 लोगों की गतिविधियों पर गुप्त जानकारी मिलने से इनके घरों की तलाशियां ली गई और कुछ महत्वपूर्ण सबूत के तौर पर दस्तावेज बरामद किए गए।

बता दें कि गत तीन दिनों से हैदराबाद के एनआईए कार्यालय में पूछताछ के लिए उपस्थित रहने के नोटीस इन संदिग्धों को जारी किया गया है। आइसिस से इनके तार जुड़े होने का संदेह इन पर व्यक्त किया जा रहा है। ये 7 लोग चंद्रायनगुट्टा, हुमायुंनगर के अब्दुल बासित, सय्यद ओमर फारूख़ हुस्सैन, माज हसन फारूख़ के निकटतम रिश्तेदार हैं। आइसिस के दुबई कार्यालय से असामाजिक गतिविधियों को अंजाम देनेवाले आबुधाबी मॉड्युल को लेकर एनआईए ने वर्ष 28 जनवरी 2018 में मामला दर्ज किया। मामला दर्ज होने के अगले दिन मुख्य सूत्रधार शेख अजर-उल-इस्लाम, दूसरे आरोपी अदनान हसन और तीसरे आरोपी महमद फरहान शेख को गिरफ्तार किया।

इसे भी पढ़ें:

एनआईए ने जेईएम के आतंकवादी को हिरासत में लिया

जम्मू कश्मीर, कर्नाटक और महाराष्ट्र के ये तीन आरोपियों ने दुबई में स्थायी रूप से रहते हुए आइसिस की गतिविधियों को अंजाम दिया। इन तीनों ने आइसिस के मुख्य सूत्रधार खालिद खिलजी के आदेश पर काम किया। पाकिस्तान के इन आइसिस सदस्य ने उन दिनों दुबई से असामाजिक गतिविधियों को अंजाम दिया। इसके पास से बरामद लैपटॉप, टैब्स, सेलफोन के विश्लेषण (डिकोडिंग) में महत्वपूर्ण सुराग मिले।

Advertisement
Back to Top