मेरठ : शहर के लिसाड़ीगेट इलाके में झूठी शान के खातिर एक भाई ने अपनी बहन की गला रेतकर हत्या कर दी है। बताया जा रहा है कि मृतक महिला अपने पति को छोड़कर प्रेमी के साथ फरार हो गई थी। जिसके बाद भाई ने उसकी हत्या की है।

जानकारी के अनुसार मेरठ के लिसाड़ीगेट निवासी इंतजार अली ने अपने बेटी गुलफ्शां की शादी सात साल पहले चमड़ा पैठ के इरफान से की थी। दोनों के सात साल में कोई औलाद नहीं हुई। इस दौरान गुलफ्शां अपने प्रेमी आबिद के संपर्क में आ गई। जिसके बाद वह अपने शौहर को छोड़कर प्रेमी आबिद के साथ कहीं चली गई।

इरफान और गुलफ्शां के घरवाले उसे तलाशते रहे। गुलफ्शां के पिता और भाई को पहले से आबिद से गुलफ्शां के इश्क़ के बारे में जानकारी थी। पता करने पर जानकारी हुई कि आबिद भी गुलफ्शां के साथ है। इसके बाद गुलफ्शां के भाई आस मुहम्मद ने उसे कत्ल करने का मन बना लिया था।

इसे भी पढ़ें

जानिये..आखिरकार छोटे भाई ने क्यों कर दी थी बहन की हत्या

2-3 दिन पहले आस मुहम्मद को जानकारी हुई कि गुलफ्शां मेरठ लौट आयी है और आबिद के साथ उसके घर पर है। आस मुहम्मद ने गुलफ्शां से संपर्क किया और उससे मिलने की इच्छा जताई। गुलफ्शां सोच रही थी कि उसकी गलती को घरवालों ने माफ कर दिया है और इसलिए वह आस मुहम्मद से मिलने के लिए तैयार हो गई।

आस मुहम्मद उसे बीती रात आबिद के घर से सुनसान इलाके में ले गया। करीब घंटे भर भाई-बहन एक दूसरे से बात करते रहे लेकिन बाद में अचानक आस मुहम्मद ने अपना रुख बदल लिया और उसकी पिटाई करने लगा। आस मुहम्मद ने इसी दौरान अपनी छुरी निकालकर गुलफ्शां की चोटी काट दी और फिर उसे दबोचकर उसका गला काट डाला। थोड़ी देर तड़फने के बाद गुलफ्शां ने दम तोड़ दिया।

इस बारे में एसपी सिटी कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि बहन का कत्ल करने के बाद आरोपी अपने घर चला गया। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि महिला के शव पोस्टमार्टम को भेजा गया है और कानूनी कार्रवाई की जा रही है।