मुंबई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर "रासायनिक हमले'' की धमकी देने और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के नियंत्रण कक्ष में फोन करने के आरोप में पुलिस ने मुंबई से 22 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर काम करने वाले काशीनाथ मंडल को डीबी मार्ग पुलिस ने 27 जुलाई को गिरफ्तार किया। अधिकारी ने बताया कि उसने नई दिल्ली स्थित एनएसजी नियंत्रण कक्ष का फोन नंबर हासिल किया और शुक्रवार को वहां फोन करके प्रधानमंत्री पर "रासायनिक हमले'' की धमकी दी।

एनएसजी ने जिस नंबर से धमकी भरा फोन किया गया था उसे मुंबई में ट्रेस करने के बाद इसकी सूचना यहां की पुलिस को दी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने झारखंड निवासी मंडल का पता लगाया और मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन से उसे उस समय गिरफ्तार किया जब वह सूरत जाने वाली एक ट्रेन में चढ़ने वाला था। वह यहां वालकेश्वर इलाके में एक झुग्गी में रह रहा था।

यह भी पढ़ें :

PM कैंडिडेट बनकर मोदी को टक्कर नहीं दे पाएंगे राहुल, ये नेता कर रहे विरोध!

यूं हीं पीएम मोदी को राहुल गांधी ने नहीं दी ‘झप्पी’, जानिए कैसे तैयार हुई स्क्रिप्ट

अधिकारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान मंडल ने पुलिस को बताया कि हाल ही में झारखंड में एक नक्सलवादी हमले में उसका दोस्त मारा गया था और इस संबंध में वह प्रधानमंत्री से मिलना चाहता था। गिरफ्तारी के बाद आरोपी को एक अदालत में पेश किया गया जहां उसे आज तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

अधिकारी ने बताया कि मंडल को आज दिन में अदालत में पेश किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मंडल के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 (1) और (2) और धारा 182 में मामला दर्ज किया गया है।