ऑकलैंड : ऑस्ट्रेलिया जैसी बराबरी की टीम को कड़ी प्रतिस्पर्धा से मात देने के बाद भारतीय टीम अब न्यूजीलैंड पहुंच गई है जहां उसे पांच मैचों की टी-20 सीरीज खेलनी है जो इसी साल होने वाले विश्व कप के लिहाज से बेहद अहम है।

सीरीज का पहला मैच शुक्रवार को ईडन पार्क मैदान पर खेला जाएगा। इस दौर पर भारतीय टीम की परीक्षा होनी है खासकर उसकी गेंदबाजी की। यही न्यूजीलैंड है जिसने पिछले साल इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में सेमीफाइनल में भारत को मात दे उसके विश्व कप जीतने के अभियान को रोक दिया था। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने हालांकि साफ कह दिया है कि इस दौरे पर किवी टीम से बदला लेने के बारे में नहीं सोच रहे हैं।

भारतीय टीम को इस दौर पर अपनी गेंदबाजी को एक बार फिर परखने का मौका मिलेगा क्योंकि टी-20 टीम में कुछ युवा गेंदबाज भी हैं जो विश्व कप टीम में जगह बना सकते हैं।

जसप्रीत बुमराह चोट के बाद लौटकर उतने प्रभावी नहीं दिख रहे हैं जितने वो हुआ करते थे। इस सीरीज में उनके पास भी लय हासिल करने का मौका है क्योंकि न्यूजीलैंड में परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के मुफीद होती हैं। नवदीप सैनी ने हालिया दौर में अच्छा करते हुए अपनी दावेदारी पेश की है। इस सीरीज में भी उनके पास अपने आप को विदेशी जमीन पर साबित करने का मौका है। यही शार्दूल ठाकुर को लेकर है।

बल्लेबाजी में भारत को हालांकि थोड़ी निराश हुई है। श्रीलंका और आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी करने वाले शिखर धवन एक बार फिर चोटिल हो कर बाहर हो गए हैं। धवन ने चोट से बाद ही श्रीलंका सीरीज में वापसी की थी।

आस्ट्रेलिया सीरीज में ऋषभ पंत के स्थान पर लोकेश राहुल ने विकेटकीपिंग की थी और संवाददाता सम्मेलन में कोहली ने भी ऐसे संकेत दे दिए हैं की राहुल दोहरी भूमिका में दिख सकते हैं। संजू सैमसन की टीम में वापसी हुई है और यह देखना भी दिलचस्प होगा कि कोहली उन्हें एक और मौका देते हैं या नहीं।

अगर न्यूजीलैंड टीम की बात की जाए तो टीम का आत्मविश्वास हिला हुआ है और इसका कारण आस्ट्रेलिया के हाथों तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में मिली 0-3 से हार है। भारत के खिलाफ सीरीज में टीम के सामने मुश्किलें कम नहीं हैं। ट्रेंट बाउल्ट, लॉकी फग्र्यूसन, मैट हेनरी और जिम्मी नीशम चोट के कारण बाहर हैं।

भारत के पिछले दौर पर न्यूजीलैंड ने अपने घर में 2-1 से जीत हासिल की थी। इससे टीम आत्मविश्वास जरूर ले सकती है। इस सीरीज में केन विलियम्सन टी-20 में वापसी कर रहे हैं तो टीम के लिए यह भी अच्छी खबर है।

कोहली भी इस बात को मान चुके हैं कि घर में किवी टीम बहुत खतरनाक है और अपने यहां कि परिस्थतियों में वह किसी को भी मात दे सकते हैं।

टीमें (संभावित) :

भारत : वराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), संजू सैमसन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, वॉशिंगटन सुंदर, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, रवींद्र जडेजा, शार्दूल ठाकुर।

न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, रॉस टेलर, स्कॉट कुगलेजिन, कोलिन मुनरो, कोलिन डी ग्रांडहोम, टॉम ब्रूस, डार्ली मिशेल, मिशेल सैंटनर, टिम सेइफर्ट (विकेटकीपर), हामिश बेनेटे, ईश सोढ़ी, टिम साउदी, ब्लेयर टिकनेर।