इंदौर : मयंक अग्रवाल (243) के करियर के दूसरे दोहरे शतक और अजिंक्य रहाणे (86) की उम्दा अर्धशतकीय पारियों की मदद से भारतीय क्रिकेट टीम ने यहां के होल्कर स्टेडियम में जारी पहले टेस्ट मैच में बांग्लादेश के खिलाफ पहली पारी के आधार पर 343 रनों की बढ़त हासिल कर ली है।

मैच के दूसरे दिन शुक्रवार का खेल खत्म होने तक भारत ने छह विकेट के नुकसान पर 493 रन बना लिए हैं। रवींद्र जडेजा 60 और उमेश यादव 25 रनों पर नाबाद लौटे। इन सभी के अलावा चेतेश्वर पुजारा ने 54 रनों का योगदान दिया।

आपको बता दें कि भारत और बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट की सीरीज का पहला मैच इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जा रहा है। मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को मयंक अग्रवाल और रविंद्र जडेजा क्रीज पर हैं। भारत के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल शुक्रवार को अपने दोहरे शतक के साथ आस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन से भी आगे निकल गए।

मयंक ने यहां के होल्कर स्टेडियम में बांग्लादेश के साथ जारी पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन छक्के के साथ अपने करियर का दूसरा दोहरा शतक पूरा किया।

इसके पहले अजिंक्य रहाणे 86 रन बनाकर आउट हुए। रहाणे-मयंक ने चौथे विकेट के लिए 190 रन की साझेदारी की। रहाणे को अबु जायेद ने तैजुल इस्लाम के हाथों कैच कराया।

मेहमान टीम ने भारत के 119 रनों पर तीन विकेट चटका उसे थोड़ी परेशानी दी लेकिन सलामी बल्लेबाज मयंक और रहाणे ने टीम को दूसरे दिन चायकाल तक तीन विकेट के नुकसान पर 303 रनों पर पहुंचा उसे मजबूत कर दिया है।

चेतेश्वर पुजारा ने भी 72 गेंदों पर 54 रनों की पारी खेली। वह दिन के पहले विकेट के रूप में पहले सत्र में पवेलियन लौटे।

मयंक और पुजारा दोनों ने दिन की शुरुआत एक विकेट के नुकसान पर 86 रनों के साथ की थी। अर्धशतक पूरा करने के बाद पुजार अबु जायेद की गेंद पर आउट हो गए। जायेद ने ही कप्तान विराट कोहली को खाता नहीं खोलने दिया।

पहले सत्र में इसके बाद मयंक और रहाणे ने कोई और विकेट नहीं गिरने दिया। दूसरे सत्र में आकर मयंक ने अपना तीसरा टेस्ट शतक पूरा किया। रहाणे ने भी अपने पचास रन पूरे किए और दोनों ने यह सुनिश्चित किया कि बांग्लादेश को इस सत्र में भी चौथा विकेट न मिले।

बांग्लादेश के लिए अभी तक तीनों विकेट जायेद ने लिए हैं। उन्होंने पहले दिन रोहित शर्मा (6) का विकेट लिया था।