IND vs SA : पुणे टेस्ट में भारत की शानदार जीत, दक्षिण अफ्रीका को पारी और 137 रनों से हराया

विकेट लेने की खुशी मनाते टीम इंडिया के खिलाड़ी - Sakshi Samachar

पुणे : भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को यहां महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका को एक पारी और 137 रनों से हरा दिया।

भारत ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 601 रनों पर घोषित कर दी थी। इसके बाद उसने मेहमान टीम की पहली पारी 275 रनों पर समेटकर उसे फॉलोऑन के लिए बाध्य किया। चौथे दिन रविवार को मेहमान टीम फॉलोऑन के लिए उतरी और 189 रनों पर ऑलआउट हो गई।

उसकी ओर से दूसरी पारी में डीन एल्गर ने सबसे अधिक 48 रन बनाए जबकि तेंदा बावुमा ने 38 तथा वेर्नान फिलेंडर ने 37 रनों की पारी खेली।

भारत के लिए रवींद्र जडेजा और उमेश यादव ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि रविचंद्रन अश्विन को दो सफलता मिली।

इसके साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है। उसने विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में 203 रनों से जीत हासिल की थी।

हालांकि आखिर में फिलेंडर और केशव महराज ने अर्धशतकीय साझीदारी निभाई। फिलांडर जहां 37 रन बनाकर उमेश यादव के शिकार हुए वहीं केशव महाराज को रविंद्र जडेजा ने 22 रन पर चलता किया। उमेश यादव ने राबाड़ा को महज 4 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर आउट कर दिया।

पहली पारी के आधार पर टीम इंडिया को 326 रनों की बढ़त मिली है। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन देने का निर्णय लिया है। स्टार ऑफ स्पिनर रनिचंद्रन अश्विन (69-4) की बेतहरीन गेंदबाजी के सहारे भारत ने शनिवार को दक्षिण अफ्रीका को उसकी पहली पारी में 275 रन पर ऑल आउट कर दिया था।

मेजबान भारत ने अपनी पहली पारी शुक्रवार को पांच विकेट पर 601 रनों पर घोषित कर दी थी। इस लिहाज से भारत के पास अभी भी 326 रनों की बढ़त है। मेहमान टीम के ऑल आउट होते ही स्टंप्स की घोषणा कर दी गई।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से निचले क्रम के बल्लेबाज केशव महाराज ने सर्वाधिक 72 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान फॉफ डु प्लेसिस ने 64, वॉर्नोन फिलेंडर ने नाबाद 44 , थ्यूनिस डी ब्यून ने 30 और क्विंटन डी कॉक ने 31 रन बनाए।

भारत ने चायकाल तक आठ विकेट पर 197 रन बना लिए थे और उसके लिए अब फॉलोऑन से बचना लगभग नामुमकिन हो गया था। लेकिन चायकाल के बाद महाराज और फिलेंडर ने नौवें विकेट के लिए 109 रनों की साझेदारी करके दक्षिण अफ्रीका को कुछ हद तक मजबूत स्थिति में पहुंचाया।

अश्विन ने महाराज को रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराके भारत को अहम सफलता दिलाई। महाराज ने 132 गेंदों पर 12 चौके लगाए। उनका यह पहला अर्धशतक है। अश्विन ने इसके बाद कगिसो रबादा (2) को भी आउट करके दक्षिण अफ्रीका को 275 रनों पर समेट दिया।

यह भी पढ़ें :

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाते ही विराट कोहली ने रचा इतिहास

अश्विन ने रचा इतिहास, इस मामले में की मुरलीधरन के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी

फिलेंडर ने 192 गेंदों की नाबाद पारी में छह चौके लगाए। भारत की ओर से रविचंद्रन अश्विन ने चार, तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तीन, मोहम्मद शमी ने दो और रविंद्र जडेजा ने एक विकेट हासिल किया।

अश्विन ने इसके साथ ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने 50 विकेट पूरे कर लिए हैं। अश्विन से पहले अनिल कुंबले 84, जवागल श्रीनाथ 64 और हरभजन सिंह 60 विकेट हासिल कर चुके हैं।

Advertisement
Back to Top