IND Vs SA : दक्षिण अफ्रीका की टीम 275 रन पर सिमटी, भारत को 326 रनों की बढ़त

टीम इंडिया के खिलाड़ी  - Sakshi Samachar

पुणे : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला पुणे के एमसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है। तीसरे दिन ने भारतीय गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों पर हावी रहे और 275 रन पर पूरी टीम को पवेलियन भेज दिया।

भारत ने अपनी पहली पारी शुक्रवार को पांच विकेट पर 601 रनों पर घोषित कर दी थी। इस लिहाज से दक्षिण अफ्रीका अभी भारत के स्कोर से 326 रन पीछे है। दक्षिण अफ्रीका के ऑल आउट होते ही स्टंप्स की घोषणा कर दी गई।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से निचले क्रम के बल्लेबाज केशव महाराज ने 132 गेंदों पर 12 चौकों की मदद से सर्वाधिक 72 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान फॉफ डु प्लेसिस ने 64, वॉर्नोन फिलेंडर ने नाबाद 44 , थ्यूनिस डी ब्यून ने 30 और क्विंटन डी कॉक ने 31 रन बनाए।

महाराज और फिलेंडर ने नौवें विकेट के लिए 109 रनों की साझेदारी की। भारत की ओर से रविचंद्रन अश्विन ने चार, तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तीन, मोहम्मद शमी ने दो और रविंद्र जडेजा ने एक विकेट हासिल किया। अश्विन ने इसके साथ ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने 50 विकेट पूरे कर लिए हैं।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर टीम इंडिया ने 5 विकेट गंवाकर 601 रन बनाए, और पहली पारी घोषित कर दी। जवाब में शनिवार को दक्षिण अफ्रीकी टीम समाचार लिखे जाने तक 8 विकेट खोकर 190 रन बना लिए हैं। फिलेंडर (20) और केशव महाराज (17) क्रीज पर मौजूद हैं।

भारत के लिए उमेश यादव ने तीन और मोहम्मद शमी और आर अश्विन ने 2-2 तो रवींद्र जडेजा 1 विकेट ले चुके हैं।

इससे पहले 601 रन के पहाड़ से स्कोर के जवाब में दक्षिण अफ्रीकी की शुरुआत बेहद खराब रही। उमेश यादव ने एडन मार्करम को बिना खाता खोले ही पवेलियन लौटा दिया। 33 रन के भीतर दक्षिण अफ्रीका अपने तीन विकेट गंवा चुकी थी।


शनीवार को मेहमान टीम की दिन की शुरुआत बेहद खराब रही और 41 के कुल योग पर एनरिक नोर्टजे (3) के रूप में उसने अपना चौथा विकेट खोया। नोर्टजे को तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने पवेलियन की राह दिखाई।

थेयुनिस डी ब्रूयन भी ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं पाए और 30 के निजी स्कोर पर उमेश यादव का शिकार बने। यादव ने उन्हें विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट कराया।

इसके बाद, कप्तान फाफ डु प्लेसिस और क्विंटन डी कॉक के बीच छठे विकेट के लिए 75 रनों की साझेदारी हुई। हालांकि, लंच से पहले स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने डी कॉक (31) को पवेलियन भेजकर इस साझेदारी को तोड़ दिया। हैं।

Advertisement
Back to Top