नई दिल्ली : टी-20 वर्ल्ड कप अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होना है। इसकी तैयारी के लिए टीम इंडिया ने बड़े फैसले लेना शुरू कर दिया है। युवा खिलाड़ियों के साथ-साथ सीनियर खिलाड़ियों के भी टी20 वर्ल्ड कप के लिहाज से ऑडिशन शुरू हो गए हैं।

टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद और कप्तान विराट कोहली ने साफ कर दिया है वे नए खिलाड़ियों को भी मौका देना चाहते हैं। साथ ही कप्तान विराट कोहली ने भी साफ कर दिया है कि नये खिलाड़ियों को भी खुदको साबित करने के लिए चार-पांच मौके दीये जाएंगे।

इस साल इंग्लैंड और वेल्स में खेले गए विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों मात खाने के बाद भारतीय टीम ने सबक लिया और हर उस खिलाड़ी को मौका देना चाहती है जो घरेलू स्तर पर अच्छा क्रिकेट खेल रहा है। यही वजह है कि अब एक भारतीय ओपनर पर गाज गिर सकती है। ये खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि रोहित शर्मा के पार्टनर शिखर धवन हैं, जिनका फॉर्म खराब चल रहा है।

बाएं हाथ के बल्लेबाज शिखर धवन के लिए टेस्ट क्रिकेट के दरवाजे लगभग बंद हो चुके हैं। हालांकि, वनडे में शिखर धवन अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन टी-20 क्रिकेट में शिखर धवन बीते कुछ समय से अच्छी फॉर्म में नहीं हैं।

इसे भी पढ़ें :

स्टेडियम में अनुष्का ने चूमा विराट का हाथ, वायरल वीडियो ने जीता लोगों का दिल

जानिए कोहली ने क्यों शेयर की शर्टलेस तस्वीर, लोग पूछ रहे उनसे सवाल

शिखर धवन के साल 2019 के टी-20 क्रिकेट मैचों के प्रदर्शन पर नज़र डालें तो उन्होंने 7 मैचों में सिर्फ 15 के औसत से 105 रन बनाए, जिसमें एक भी अर्धशतक तक शामिल नहीं है।

आपको यह बता दें कि शिखर धवन ने भारत के लिए अब तक 53 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। इन मैचों की 52 पारियों में धवन ने 3 बार नाबाद रहते हुए 1337 रन बनाए हैं। शिखर धवन ने क्रिकेट के इस फॉर्मेट में 9 अर्धशतक जरूर लगाए हैं, लेकिन इसमें कोई भी शतक शामिल नहीं है। धवन का टी-20 औसत 27.28 का है।

इसे भी पढ़ें :

रोहित शर्मा को ‘सहवाग’ बनाने की तैयारी में चयनकर्ता, ऐसा जता रहे हैं भरोसा

साल 2011 से 2017 तक शिखर धवन ने कुल 28 मैच खेले, जिसमें 21.72 के औसत से 543 रन बनाए, जिसमें 3 अर्धशतक शामिल थे। वहीं, साल 2017 से 2018 तक शिखर ने कुल 18 मैच खेले, जिनमें 6 अर्धशतकों के साथ 40.52 के औसत से 689 रन बनाए।

साल 2019 उनका औसत बहुत की खराब रहा है। ऐसे में कप्तान विराट कोहली शायद केएल राहुल की ओर जा सकते हैं, जो टी-20 क्रिकेट में लगातार अच्छा करते आ रहे हैं।