नई दिल्ली : टीम इंडिया के स्टार स्पिनर और ऑलराउंडर आर. अश्विन आज अपना 33वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। उनका जन्म 17 सितंबर 1986 को चेन्नई में हुआ था। रविचंद्रन अश्विन भले ही एक स्पिनर के रूप में जाने जाते हों, लेकिन मौजूदा समय में अगर उन्हें टेस्ट टीम का बेस्ट ऑलराउंडर कहा जाए तो कुछ गलत नहीं होगा।

एश है अश्विन का निक नेम

रविचंद्रन अश्विन का जन्म 17 सितंबर, 1986 को चेन्नई में एक तमिल ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उन्होंने SSN कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग से बीटेक में आईटी किया है। अश्विन का निकनेम एश है। अश्विन ओपनर के तौर पर बैटिंग करने उतरते थे।

अश्विन के पिता जिस क्लब के लिए क्रिकेट खेलते थे, अश्‍विन ने भी उसी से क्रिकेट खेलने की शुरुआत की। अश्विन जूनियर टीम में टॉप क्लास के ओपनर थे। 14 साल की उम्र में अश्‍विन को चोट लगी, जिससे कारण बैट्समैन बनने का सपना थोड़ा पीछे रह गया। इस चोट के कारण अश्विन 2 महीने तक बिस्तर पर थे। ठीक होने के बाद जब अश्‍विन वापस अपनी टीम में आए, तो ओपनिंग की जगह चली गई। इसके बाद उन्होंने अपनी मां की सलाह मानते हुए बॉलिंग को अपना करियर बना लिया।

सबसे तेज 300 विकेट लेने वाले गेंदबाज है अश्विन

अश्विन टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 300 विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं, इसके अलावा उन्होंने भारत की ओर से चार टेस्ट सेंचुरी भी जड़ी हैं। अश्विन 529 इंटरनेशनल विकेट ले चुके हैं, जिसमें 327 टेस्ट, 150 वनडे और 52 टी20 इंटरनेशनल विकेट शामिल हैं। अश्विन का टेस्ट क्रिकेट में बेस्ट स्कोर 124 रनों का है, जबकि वनडे में वो एक हाफसेंचुरी जड़ चुके हैं। यही नहीं टेस्ट क्रिकेट में अश्‍विन 6 बार मैन ऑफ द सीरीज़ बन चुके हैं। उन्होंने सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग को पीछे किया।