नई दिल्ली : भारत ने वेस्टइंडीज को पहले टेस्ट में 318 रन से मात दी थी। अब टेस्ट सीरीज का दूसरा और आखिरी मुकाबला जमैका में 30 अगस्त से खेला जाएगा। इस मुकाबले में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के निशाने पर तीन बड़े रिकॉर्ड होंगे, जिन्हें वो तोड़कर विश्व क्रिकेट में अपना डंका फिर से ठोकने की जरूर कोशिश करेंगे।

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया अभी तक 27 टेस्ट मैच जीत चुकी है। विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया 27-27 टेस्ट मैच जीत चुकी है। अगर टीम इंडिया अगला टेस्ट मैच जीत लेती है तो विराट टेस्ट की कप्तानी में टीम इंडिया की ये 28वीं जीत होगी, जिसके चलते वो महेंद्र सिंह धोनी के इस रिकॉर्ड को तोड़ देंगे और भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल टेस्ट कप्तान बन जाएंगे।

इसे भी पढ़ें:

कोहली पहले स्थान पर बराकरार, शीर्ष 10 में पहली बार जसप्रीत बुमराह

विराट कोहली के बल्ले से आखिरी टेस्ट शतक 14 दिसंबर 2018 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ निकला था। अगले मैच में अगर वह सैकड़ा जड़ने में कामयाब हो जाते हैं तो उनके टेस्ट में 26 शतक हो जाएंगे। इसी के साथ विराट शतकों के मामले में ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ से आगे निकल जाएंगे। स्मिथ फिलहाल 25 शतकों के साथ विराट के साथ खड़े हैं।

टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान रिकी पोंटिंग और विराट कोहली दोनों ने अब तक 19-19 शतक लगाए हैं। अगले मैच में शतक लगाते ही विराट कोहली पोंटिंग के इस रिकॉर्ड को तोड़ कर टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे।