नई दिल्ली : विश्व कप 2019 में टीम इंडिया में चयन नहीं होने के कारण अंबाती रायुडू ने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की थी, लेकिन अब उन्होंने अपने संन्यास के फैसले को बदलने की ओर इशारा किया है। अंबाती रायडू ने अपने रिटायरमेंट के फैसले से यू टर्न ले लिया है। रायडू ने कहा है कि वह चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से आईपीएल खेलेंगे और सफेद गेंद की क्रिकेट में वापसी भी करेंगे। रायुडू आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हैं।

रायुडू ने एक इंटरव्यू में कहा, 'मैं बेशक चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलूंगा और इसे सफेद गेंद की क्रिकेट में वापसी के विकल्प के तौर पर देख रहा हूं। फिलहाल मैं अपनी फिटनेस पर ध्यान देना चाहता हूं।" उन्होंने कहा कि चेन्नई सुपर किंग्स हमेशा आपको ऐसा महसूस कराती है कि वहां आपका स्वागत किया जा रहा है।'

रायुडू ने अपने संन्यास और विश्व कप टीम में जगह नहीं मिलने के बारे में बात करते हुए कहा, "संन्यास लेना कोई भावुक फैसला नहीं था, क्योंकि पिछले चार साल से मैंने वर्ल्ड कप खेलने के लिए कड़ी मेहनत की थी। टीम का हिस्सा नहीं बनने के कारण मैं काफी निराश था, लेकिन मैंने इस वजह से रिटायरमेंट का एलान नहीं किया।"

इसे भी पढ़ें :

कोहली के इस फैसले से नाखुश सौरव गांगुली, कप्‍तान को दे डाली अहम सलाह

उन्होंने कहा कि उनके पास अभी समय है कि, वह इस फैसले विचार कर आगे और क्रिकेट खेलने का फैसला कर सकते हैं। टीम इंडिया के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा कि मैं अभी ज्यादा दूर की नहीं सोच रहा हूं, मैं एक-एक कदम लूंगा और देखूंगा कि आने वाले समय में चीजें कैसी रहती हैं।

आपको बता दें कि रायुडू को टीम इंडिया की वर्ल्ड कप टीम में जगह नहीं मिली थी। जिसके बाद उन्होंने ट्वीट करके इस पर नाराजगी जाहिर की थी। बाद में उन्हें स्टैंडबाई खिलाड़ी के तौर पर रखा गया था, लेकिन शिखर धवन के चोटिल होने के बाद रिप्लेसमेंट के तौर पर उनकी जगह पहले ऋषभ पंत और फिर जब विजय शंकर बाहर हुए तो मयंक अग्रवाल को विश्व कप टीम में शामिल किया गया। इसके बाद रायुडू ने क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया था।

रायुडू ने भारत के लिए 55 वन-डे खेला है और 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए हैं। जिसमें उन्होंने तीन शतक और 10 अर्द्धशतक लगाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 79.04 है। अंबाती ने टी-20 मैच की पांच पारियों में 10.50 की औसत से 42 रन बनाए हैं।