चेन्नई : पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज और राष्ट्रीय चयनकर्ता वीबी चंद्रशेखर ने कर्ज के कारण तनाव के चलते आत्महत्या की। गुरुवार को शुरूआती रिपोर्ट के अनुसार उनका निधन दिल का दौरा पड़ने के कारण हुआ था। लेकिन वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार चंद्रशेखर ने कर्ज के कारण गुरूवार को यहां अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि वह इस कर्जे के कारण काफी तनाव में थे। चंद्रशेखर की तमिलनाडु प्रीमियर लीग में एक टीम ‘वीबी कांची वीरन्स' थी, जिसका चौथा चरण गुरूवार को समाप्त हुआ। तमिलनाडु के इस पूर्व बल्लेबाज का छह दिन बाद 58वां जन्मदिन था। उनके परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं।

चंद्रशेखर ने 1988 से 1990 के बीच सात वनडे खेले थे जिनमें उन्होंने 88 रन बनाये थे, लेकिन घरेलू स्तर पर उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया तथा 81 मैचों में 4999 रन बनाये जिसमें नाबाद 237 रन उनका उच्चतम स्कोर रहा। भारतीय क्रिकेट जगत ने उनके निधन पर हैरानी व्यक्त की।

यह भी पढ़ें :

बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा विद्या सिन्हा का निधन, रजनीगंधा से शुरू की थी करियर

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने अपने ट्विटर हैंडल पर श्रृद्धांजलि दी, ‘‘बीसीसीआई को यह बताते हुए काफी दुख हो रहा है कि पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीबी चंद्रशेखर अब दुनिया में नहीं हैं। उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति हमारी हार्दिक संवेदनायें।''

पूर्व भारतीय कप्तान के श्रीकांत ने बीते समय में उनके साथ कई बार पारी का आगाज किया था, उन्होंने कहा कि वह उनके निधन से काफी हैरत में हैं। भारत और चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाड़ी सुरेश रैना और हरभजन सिंह ने शोक व्यक्त किया। वह आईपीएल टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के परिचालन निदेशक और चयनकर्ता भी थे, टीम ने भी ट्विटर हैंडल पर दुख जताया।