लॉडेरहिल (फ्लोरिडा) : भारत के तेज गेंदबाज नवदीप सैनी को यहां तीन मैचों की श्रृंखला के पहले टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के दौरान वेस्टइंडीज के बल्लेबाज निकोलस पूरण के आउट होने पर उनकी तरफ ‘आक्रामक इशारा' करने के लिए एक ‘डिमेरिट' अंक दिया गया है। यह घटना वेस्टइंडीज की पारी के दौरान हुई जब सैनी ने पूरण को आउट किया।

आईसीसी ने बयान में कहा, ‘‘सैनी को खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ से संबंधित आईसीसी की आचार संहिता के नियम 2 . 5 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है जो कोई ऐसा काम या इशारा करने से जुड़ा है जिससे आउट होने पर बल्लेबाज उकसावे में आक्रामक प्रतिक्रिया दे सकता है।''

बयान के अनुसार, ‘‘उसे एक डिमेरिट अंक दिया गया है।'' पदार्पण का रहे सैनी पर मैदानी अंपायरों नाइजेल डुगुइड और ग्रेगरी ब्रेथवेट के अलावा तीसरे अंपायर लेस्ली रीफर और चौथे अंपायर पैट्रिक गस्टर्ड ने आरोप लगाए थे। सैनी ने आरोप स्वीकार कर लिया है और साथ ही मैच रैफरी जैफ क्रो द्वारा प्रस्तावित सजा को भी स्वीकार किया जिससे औपारिक सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ी।

आपको बता दें कि भारत ने शनिवार को पहले टी20 में चार विकेट से जीत दर्ज की थी जिसमें सैनी ने 17 रन देकर तीन विकेट चटकाए थे।

इसे भी पढ़ें :

वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरा टी-20 आज, इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका

कोहली व पांड्या
कोहली व पांड्या

यह माना जा रहा है कि अगले मैच में दो युवा खिलाड़ी बेंच पर बैठे थे उनमें दीपक चहर, राहुल चहर, श्रेयस अय्यर के नाम शमिल हैं। कोहली अब इन तीनों में से किसे मौका देते हैं यह देखना दिलचस्प होगा। ऐसा भी हो सकता है कि कप्तान इन तीनों को आजमा लें।

सीरीज बेशक भारत के हिस्से आ गई है लेकिन कोहली ने साफ कह दिया है कि जीत उनके लिए अभी भी प्राथमिकता है इसलिए टीम प्रबंधन बड़ा जोखिम लेने से बचेगा क्योंकि टी-20 में विंडीज सबसे खतरनाक टीम और अब वह अपने घर में खेलेगी जो इस मौजूदा विजेता को पहले से कई ज्यादा खतरनाक और आत्मविश्वास से भरी बना देगा।