नई दिल्ली : भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि वह एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले श्रीलंका के दिग्गज लसिथ मलिंगा के प्रशंसक बने रहेंगे।

मलिंगा ने गुरूवार को कोलंबो के घरेलू मैदान पर अपने करियर के अंतिम वनडे में 9.4 ओवर में दो मेडन से 38 रन देकर तीन विकेट झटके। उन्होंने 226 वनडे मैचों में 338 विकेट चटकाये।

एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले श्रीलंका के दिग्गज लसिथ मलिंगा
एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले श्रीलंका के दिग्गज लसिथ मलिंगा

बुमराह ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ मलिंगा की उत्कृष्ट गेंदबाजी। क्रिकेट के लिए आपने जो कुछ भी किया है, उसके लिए धन्यवाद। मैं हमेशा से आपका प्रशंसक रहा हूं और हमेशा रहूंगा।''

मलिंगा और बुमराह को अलग तरह के गेंदबाजी एक्शन के लिए जाना जाता है। दोनों के पास तेज गति से यार्कर डालने की क्षमता है। आईपीएल में लंबे समय से दोनों गेंदबाज मुंबई इंडियन्स के लिए खेल रहे हैं।

अपना आखिरी एकदिवसीय खेलने के बाद मलिंगा ने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि यह मेरे लिए एकदिवसीय से संन्यास लेने का सही समय है। मैं पिछले 15 साल से श्रीलंका के लिए खेल रहा हूं और यह आगे बढ़ने का सही समय है।'' उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा समय समाप्त हो गया है और मुझे जाना होगा।''

महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर की अगुवाई में कई मौजूदा और पूर्व क्रिकेटरों ने 35 साल के मलिंगा को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

तेंदुलकर ने ट्वीट किया, ‘‘मलिंगा शानदार एकदिवसीय करियर के लिए बधाई, भविष्य के लिए आप सभी को शुभकामनाएं ।''

मलिंगा के साथ 10 वर्षों तक राष्ट्रीय टीम के सदस्य रहे श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने ने उनके साथ बिताये शुरूआती दिनों को याद किया। जयवर्धने ने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘‘गॉल में 2002 में 18 साल के जिस नेट गेंदबाज का मैंने सामना किया, वो चैम्पियन आज अपना आखिरी एकदिवसीय खेल रहा है। आप टीम के लिए योगदान देने वाले चैम्पियन और अच्छे दोस्त हैं। आपने श्रीलंका को गौरवान्वित किया है।''

मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने मलिंगा को पिछले एक दशक का सबसे बड़ा मैच विजेता करार दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘अगर मुझे पिछले एक दशक में मुंबई इंडियन्स के लिए एक मैच विजेता को चुनना होगा तो यह खिलाड़ी (मलिंगा) निश्चित रूप से शीर्ष पर होगा। एक कप्तान के रूप में वह मुझे तनावपूर्ण परिस्थितियों में राहत देता और वह कभी भी जरूरत के समय विफल नहीं रहा। भविष्य के लिए आपको शुभकामनाएं।''

कुसाल परेरा (111) के तेजतर्रार शतक की मदद से श्रीलंका ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में शुक्रवार को यहां बांग्लादेश को 91 रन से हराकर अपने स्टार लसिथ मलिंगा को जीत से विदाई दी। मलिंगा एकदिवसीय में तीन बार हैट्रिक लेने वाले इकलौते गेंदबाज हैं। उन्होंने 2011 में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।