मैनचेस्टर। भारत को 28 साल बाद विश्व कप दिलाने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का सम्भवत: यह आखिरी विश्व कप है और टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली चाहते हैं कि पूर्व कप्तान ने जो टीम को बनाने और कोहली को निखारने में योगदान दिया है उसे सराहा जाए।

भारत को मंगलवार को आईसीसी विश्व कप-2019 के पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ना है। मैच से पहले कोहली ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि धोनी का टीम को बदलने में काफी बड़ा योगदान है और वो अभी भी रणनीतिज्ञ के तौर पर टीम में योगदान दे रहे हैं।

कोहली ने कहा, "मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि जब आप टीम के किसी भी खिलाड़ी से पूछेंगे तो उनके पास धोनी के लिए कुछ विशेष कहने के लिए होगा। खासकर हमारे लिए जिन्होंने अपना करियर उनकी कप्तानी में शुरू किया है।

हमारे लिए यह कभी बदलेगा नहीं। वो सम्मान हमेशा रहेगा क्योंकि जो मौके उन्होंने हमें दिए, जो विश्वास हम पर दिखाया वो हमारे लिए अहम था। और जिस तरह से उन्होंने इतने वर्षो तक टीम को संभाला वो बेहतरीन है।"

इसे भी पढ़ें :

World Cup 2019 : सेमीफाइनल से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम को बड़ा झटका, ये खिलाड़ी हुआ बाहर

कोहली ने कहा, "और अब हम हैं जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा रहे हैं। हम उस प्रक्रिया की अहमियत को समझते हैं। मैं इस बात से खुश हूं कि अपने धोनी के बारे में पूछा, क्योंकि कई लोगों का ध्यान कुछ और बातों पर है।"

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, "एक इंसान ने जब टीम के लिए इतना कुछ किया हो तो आपको उसे उसकी सरहाना करनी चाहिए। उन्होंने जिस तरह से भारतीय टीम को संभाला और भारतीय क्रिकेट के सम्मान को पूरे विश्व कप में आगे ले गए, उसकी सराहना करनी चाहिए।"

इसे भी पढ़ें :

क्या अबकी बार सेमीफाइनल में हारकर टूटेगा इस टीम का शानदार रिकॉर्ड...!

उन्होंने कहा, "इसलिए हम उनके शुक्रगुजार हैं। मेरी नजरों में धोनी का इज्जत हमेशा काफी ऊपर रहेगी क्योंकि मैं समझ सकता हूं कि कप्तानी करते हुए बदलाव करना कितना मुश्किल होता है।

उसी टीम में उन्हीं खिलाड़ियों के साथ एक खिलाड़ी के तौर पर खेलना वो भी तब जब आप लंबे अरसे तक टीम के कप्तान रहे हों। वह आपको अपने फैसले लेना का समय देते हैं और खुद को तलाशने में आपकी मदद करते हैं।"