मैनचेस्टर : दक्षिण अफ्रीका ने जो पूरे टूर्नामेंट में नहीं किया वह अंतिम लीग मैच कर दिखाते हुए ऑस्ट्रेलिया का काम खराब कर दिया। फॉफ डुप्लेसिस की टीम ने न सिर्फ 10 रन से जीत हासिल की बल्कि ऑस्ट्रेलिया को सर्वोच्च स्थान की पदवी से उतार कर नंबर दो पर धकेल दिया।

इस हार के साथ आरोन फिंच की टीम को अब सेमीफाइनल में मेजबान इंग्लैंड के साथ खेलना पड़ेगा। वहीं भारत 15 अंक के साथ सर्वोच्च स्थान पर रहते हुए पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के साथ खेलेगा।

वॉर्नर का शतक

यह डेविड वार्नर थे जो दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों से अंत तक लोहा लेते रहे। लेकिन क्रिस मौरिस ने मिड ऑन पर वॉर्नर का अविश्वसनीय सा कैच लेते हुए उनकी 117 गेंद में 122 रन की पारी का अंत कर दिया। उन्होंने 15 चौके और दो छक्के लगाए।

हालांकि यह विकेट कीपर एलेक्स कैरी थे जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया की जीत की उम्मीदों को बनाए रखा, लेकिन मौरिस की गेंद पर वह भी आउट हो गए। उन्होंने 69 गेंद में 11 चौके एक छक्के की मदद से 85 रन की पारी खेली। अंतिम ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 18 रन चाहिए थे और अंतिम जोड़ी विकेट पर थी। लेकिन लॉएन और बेहरनडॉर्फ कुछ नहीं कर पाए। ऑस्ट्रेलिया 49.5 ओवर में 315 पर सिमट गई।

दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 326 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम एक गेंद शेष रहते 315 रन पर ऑल आउट हो गई। दक्षिण अफ्रीका की तरफ से रबाडा ने तीन विकेट लिए। उनके अलावा प्रेटोरियस और फेहलुकवायो ने 2-2 विकेट झटके। वहीं, इमरान ताहिर और क्रिस मॉरिस ने 1-1 झटके।

ऑस्ट्रेलियाई टीम आईसीसी विश्व कप-2019 में शनिवार को ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लीग का आखिरी मैच खेला गया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने फाफ डु प्लेसिस के शतक और क्विंटन डी कॉक, रासी वैन डर डुसैन की बेहतरीन पारियों के दम पर 50 ओवरों में छह विकेट खोकर 325 रन बनाए।

डु प्लेसिस ने 94 गेंदों पर सात चौके और दो छक्कों की मदद से 100 रन बनाए। ड्वायन प्रीटोरियस ने 97 गेंदों पर 95 रन और डी कॉक ने 51 गेंदों पर 52 रन बनाए।

आस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टार्क और नाथन लॉयन ने दो-दो विकेट लिए।

मौजूदा चैम्पियन टीम इस मैच को जीतकर लीग स्तर का समापन शीर्ष पर रहते हुए करना चाहेगी। तो वहीं फाफ डु प्लेसिस की टीम पाकिस्तान व वेस्टइंडीज की तरह जीत हासिल करके विश्वकप से विदा लेना चाहेगी।

ऑस्ट्रेलिया के पास अभी 14 अंक हैं। इस मैच में जीत उसे 16 अंक दिला देगी। लेकिन अगर वह हार जाती है और इसी दिन भारत लीड्स में खेले जाने वाले मैच में श्रीलंका को हरा देता है तो ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर आ जाएगी, क्योंकि भारत के अभी 13 अंक हैं और जीतने के बाद उसके 15 हो जाएंगे। ऐसे में पहले स्थान के साथ अंत करने के लिए ऑस्ट्रेलिया को जीत ही चाहिए।

मौजूदा विजेता का इस विश्व कप में प्रदर्शन शानदार रहा है। मजबूत बल्लेबाजी और गेंदबाजी से उसने एकतरफा जीतें हासिल की हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी उसका पलड़ा भारी माना जा रहा है क्योंकि दक्षिण अफ्रीका का मौजूदा फॉर्म बेहद खराब है। वह इस समय आठ मैचों में दो जीत और पांच हार के साथ पांच अंक लेकर आठवें स्थान पर है।

इसे भी पढ़ें :

भारत-श्रीलंका के बीच मुकाबला आज, क्या बारिश फिर करेगी मैच का मजा किरकिरा

ICC World Cup 2019 : बांग्लादेश से जीतकर भी विश्व कप से बाहर हुआ पाकिस्तान

यह टीम विश्व कप से बाहर हो चुकी है लेकिन यह किसी से छुपा नहीं है कि इस टीम के पास आज भी कई विजेता खिलाड़ी हैं और ऐसे में फाफ डु प्लेसिस की इस टीम को हल्के में लेना एरॉन फिंच की टीम को भारी पड़ सकता है।

टीमें (संभावित) :

दक्षिण अफ्रीका : फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), डेविड मिलर, एडिन मार्कराम, हाशिम अमला, रासी वैन डेर डुसैन, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), कागिसो रबाडा, लुंगी नगिदी, इमरान ताहिर, तबरेज शम्सी, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, आंदिले फेहुलक्वायो, ड्वयान प्रीटोरियस, क्रिस मौरिस।

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), जेसन बेहरनडार्फ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, शॉन मार्श, ग्लैन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।