विश्व कप: न्यूजीलैंड को हरा इंग्लैंड ने 27 साल बाद रखा सेमीफाइनल में कदम 

इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड पर आसान जीत दर्ज कर ली है। - Sakshi Samachar

चेस्टर ली स्ट्रीट : लगातार दो मैचों में हार के बाद सेमीफाइनल में जाने के लिए संघर्ष करने वाली मेजबान इंग्लैंड ने मंगलवार को न्यूजीलैंड को 119 रनों से हरा आईसीसी विश्व कप-2019 के सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली है।

इंग्लैंड ने 1992 के बाद से पहली बार विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। न्यूजीलैंड के ऊपर इस जीत ने इंग्लैंड के 27 साल के विश्व कप इतिहास को बदला है। वह इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली तीसरी टीम बन गई है। मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया और भारत पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुकी हैं।

न्यूजीलैंड के पास अभी भी सेमीफाइनल में जाने का मौका है लेकिन इसके लिए उसे पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच होने वाले मैच में पाकिस्तान की हार की दुआ करनी होगी और अगर पाकिस्तान को सेमीफाइनल में पहुंचना भी है तो उसे बांग्लादेश को विशाल अंतर से हराना होगा तभी वह कीवी टीम को पीछे छोड़ अंतिम-4 में पहुंचेगी।

बहरहाल, पहले बल्लेबाजी करने वाली इंग्लैंड मैन ऑफ द मैच जॉनी बेयरस्टो (106) और जेसन रॉय (60) द्वारा दी गई शतकीय शुरुआत के बाद 350 के आस-पास पहुंचती दिख रही थी लेकिन कीवी गेंदबाजों ने मध्य के ओवरों में वापसी की और लगातार विकेट ले मेजबान टीम को 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 305 रनों से आगे नहीं जाने दिया।

न्यूजीलैंड के बल्लेबाज इस लक्ष्य को हासिल करने में विफल रहे और 45 ओवरों में 186 रनों पर ढेर हो गए।

कीवी टीम के लिए सबसे ज्यादा 57 रन टॉम लाथम ने बनाए। उनके अलावा कोई और बल्लेबाज अच्छे से इंग्लिश गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाया। लाथम ने 65 गेंदों का सामना कर पांच चौके लगाए।

क्रिस वोक्स ने पहले ही ओवर की पांचवीं गेंद पर हेनरी निकोलस (0) को दो के कुल स्कोर पर आउट कर न्यूजीलैंड को पहला झटका दिया।

यहां से टीम लगातार विकेट खोती रही और कोई भी बड़ी साझेदारी करने में कामयाब नहीं रही। उसके दो बड़े विकेट रन आउट के चलते गिरए

मार्टिन गुप्टिल (8) के 14 रनों के कुल स्कोर पर आउट होने के बाद केन विलियम्सन (27) और रॉस टेलर (28) ने 47 रन जोड़ लिए थे, तभी मार्क वुड ने विलियम्सन को रन आउट कर दिया। जोस बटलर और आदिल राशिद की जोड़ी ने टेलर को भी रन आउट कर कीवी टीम को चौथा झटका दिया।

यहां से न्यूजीलैंड वापसी की हालत में नहीं रही। लाथम अकेले लड़ते रहे। जिम्मी निशम ने 19 रन ही बना सके। कोलिन डी ग्रांडहोम तीन के निजी स्कोर पर पवेलियन लौट गए।

लाथम भी लिया प्लंकट की गेंद पर जोस बटलर को कैच देकर 164 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट लिए। यहां से मिशेल सैंटनर (12), मैट हेनरी (7) जल्दी आउट हो गए।

आदिल राशिद ने ट्रेंट बाउल्ट (4) को आउट कर न्यूजीलैंड की पारी समाप्त की।

इससे पहले, टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला करने वाली इंग्लैंड को रॉय और बेयरस्टो की सलामी जोड़ी ने मजबूत शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 123 रन जोड़े। जिमी नीशम ने रॉय को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। उन्होंने 61 गेंदों का सामना किया और आठ चौके मारे।

इस साझेदारी के टूटने के बाद इंग्लैंड लगातार अंतराल पर विकेट खोती रही। बाउल्ट ने जोए रूट (24) और बटलर (11) के विकेट लेकर इंग्लैंड के बड़े स्कोर के सपने को संकट में डाला। इसी बीच हेनरी ने बेयरस्टो की शतकीय पारी का अंत कर दिया। बेयरस्टो ने 99 गेंदें खेलीं और 15 चौकों के अलावा एक छक्का मारा।


सैंटनर ने बेन स्टोक्स (11) को आउट कर इंग्लैंड का स्कोर पांच विकेट पर 248 रन कर दिया।

यहां से इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन अकेले लड़ते रहे लेकिन दूसरे छोर से उन्हें साथ नहीं मिला। वोक्स भी चार रन ही बने सके। इंग्लिश कप्तान को हेनरी ने 47वें ओवर की पहली गेंद पर 42 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेज दिया।

अंत में राशिद ने 16 रन बनाए और लियाम प्लंकट 15 रन बनाकर नाबाद लौटे। जोफ्रा आर्चर भी एक रन बनाकर नाबाद रहे।

कीवी टीम के लिए बोल्ट, हेनरी और नीशम ने दो-दो विकेट लिए। टिम साउदी और सैंटनर को एक-एक सफलता मिली।

इंग्लैंड के लिए मार्क वुड ने तीन सफलताएं लीं। वोक्स, आर्चर, प्लंकट, राशिद, स्टोक्स को एक-एक विकेट मिला।

Advertisement
Back to Top