ब्रिस्टल : एक चैम्पियन टीम क्या होती है और वो क्या कर सकती है इसकी बानगी ऑस्ट्रेलिया ने एक बार फिर पेश की है। मौजूदा विजेता ने आईसीसी विश्व कप-2019 में गुरुवार को ट्रेंट ब्रिज मैदान पर उतार-चढ़ाव भरे मैच में खतरनाक वेस्टइंडीज को 15 रनों से हरा दिया।

ऑस्ट्रेलिया के लिए यह जीत आसान नहीं रही, खासकर जिस तरह से उसको शुरुआत मिली थी उसे देखकर। 79 रनों पर पांच विकेट खोने वाली ऑस्ट्रेलिया ने मैन ऑफ द मैच नाथन कल्टर नाइल (92) और अपने बेहतरीन बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (73) के बीच सातवें विकेट के लिए हुई 102 रनों की साझेदारी के दम पर 49 ओवरों में सभी विकेट खोकर 288 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया।

विंडीज के गहरे और बिग हटर्स से सजे बल्लेबाजी क्रम को देखकर यह आसान लक्ष्य लग रहा था लेकिन मौजूदा विजेता ने मिशेल स्टार्क के पांच विकेटों के दम पर विंडीज को 50 ओवरों में नौ विकेट खोकर 273 रनों पर ही रोक दिया।

इस जीत की पठकथा स्मिथ और नाथन ने ही लिख दी थी जिसे गेंदबाजों खासकर स्टार्क ने ने बेहतरीन तरीके से अंजाम दिया। स्मिथ ने धीमी लेकिन सूझबूझ भरी पारी खेली और मैच में अपनी टीम को बनाए रखा। उन्होंने अपनी पारी में 103 गेंदों का सामना किया और सात चौके लगाए। नाथन ने शुरुआत धीमी की थी, लेकिन लय में आते ही बड़े शॉट खेले। आठ रन से अपने पहले शतक से चूकने वाले नाथन ने सिर्फ 60 गेंदों का सामना किया और आठ चौके तथा चार छक्के लगाए। इसी के साथ वह विश्व कप में आठवें नंबर पर आकर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं।

इन दोनों ने के बाद स्टार्क ने अपना कमाल दिखाया और अहम समय पर विंडीज के अहम विकेट ले उसे जीत की तरफ से वापस हार की तरफ मोड़ दिया। स्टार्क के अलावा पैट कमिंस ने दो और एडम जाम्पा ने एक विकेट लिया। 289 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी विंडीज को शुरुआत में आस्ट्रेलिया ने बड़ा झटका दे दिया। इविन लुइस (1) पैट कमिंस की गेंद पर स्मिथ को कैच दे बैठे।

स्टार्क ने फिर विंडीज के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल (21) को एलबीडब्ल्यू कर उसे दूसरा झटका दिया। गेल अंपायर के इस फैसले पर नाराज थे इसलिए उन्होंने रिव्यू ले लिया जो असफल रहा और गेल के साथ विंडीज को भी निराशा हुई। निकोरल पूरन (40) और शाई होप (68) ने विकेट पर पैर जमाए और तीसरे विकेट के लिए 68 रनों की साझेदारी कर आस्ट्रेलिया पर दबाव बनाना शुरू किया।

इस बार लेग स्पिनर एडम जाम्पा ने ऑस्ट्रेलिया को राहत दी। उन्होंने 99 के कुल स्कोर पर पूरन को कप्तान फिंच के हाथों कैच कराया। फिर होप को शिमरन हेटमायेर (21) का साथ मिला। यह जोड़ी भी ज्यादा आगे नहीं जा पाई और 149 के कुल स्कोर पर हेटमायरे रन लेने की जल्दबाजी में रन आउट हो गए।

होप एक छोर पर साथ ढूंढ रहे थे। कप्तान जेसन होल्डर (51) ने उनका साथ दिया, लेकिन इस बार होप साझेदारी तोड़ कर चलते बने। उन्हें कमिंस ने 190 के कुल स्कोर पर उस्मान ख्वाजा के हाथों कैच कराया। होप ने अपनी पारी में 105 गेंदें खेलीं और सात चौके मारे।

आईपीएल में अपने तूफान से कई मैच पलटने वाले आंद्रे रसेल के सामने यहां भी लगभग वैसी स्थिति थी जिससे आईपीएल ने उन्हें अवगत कराया था, लेकिन रसेल आईपीएल की सफलता नहीं दोहरा पाए और स्टार्क के सामने नतमस्तक हो गए। रसेल ने 11 गेंदों पर 15 रन बनाए।

लेकिन कप्तान होल्डर और कार्लोस बै्रथवेट ने फिर आस्ट्रेलिया को परेशानी में डाला। यह दोनों स्कोरबोर्ड आगे बढ़ा रहे थे और आस्ट्रेलिया की जीत की संभावनाओं को कम करते जा रहे थे। आस्ट्रेलियाई कप्तान फिंच ने एक बार फिर स्टार्क को जिम्मेदारी सौंपी। स्टार्क इस बार भी सफल हुए। उन्होंने पहले बैथवेट को 16 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेजा और फिर होल्डर की 57 गेंदों पर सात चौके और एक छक्के की मदद से खेली गई 51 रनों की पारी का अंत कर आस्ट्रेलिया की जीत पक्की की।

शेल्डन कॉटरेल (1) को स्टार्क ने बोल्ड कर अपना पांचवां शिकार बनाया। कॉटरेल के रूप में विंडीज ने अपना नौवां विकेट खोया। एश्ले नर्श ने नाबाद 19 रन बनाए। ओशाने थॉमस चार गेंद खेलने के बाद भी खाता नहीं खोल पाए बिना रन बनाए रन आउट लौटे।

इससे पहले, होल्डर ने टॉस जीत गेंदबाजी चुनी और विंडीज के गेंदबाजों ने आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की कमर तोड़ दी। फिंच (6), डेविड वार्नर (3), उस्मान ख्वाजा (13) और ग्लैन मैक्सवेल (0) को 39 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट चुके थे।

मार्कस स्टोइनिस (19) ने स्मिथ के साथ टीम का स्कोर 79 तक पहुंचाया लेकिन स्टोइनिस यहां होल्डर का शिकार बने। स्टोइनिस के जाने के बाद आस्ट्रेलिया का स्कोर पांच विकेट पर 79 रन था।

यहां फिर स्मिथ और एलेक्स कैरी (45) ने काम को आगे बढ़ाया और विकेट पर पैर जमा लिए। एलेक्स अपने अर्धशतक से पांच रन से चूक गए और 147 के कुल स्कोर पर रसेल की गेंद पर होप के हाथों लपके गए।

स्मिथ को लगा था कि वह वह अकेले ही लड़ेंगे, लेकिन नाथन ने उनका साथ दिया और दोनों ने शतकीय साझेदारी कर आस्ट्रेलिया की मैच में वापसी कराई। स्मिथ विंडीज गेंदबाजों को आसानी से खेल रहे थे और डटे हुए थे, लेकिन जो काम गेंदबाजी नहीं कर पाई वो काम विंडीज की बेहतरीन फील्डिंग ने कर दिया।

थॉमस की गेंद पर स्मिथ ने बेहतरीन शॉट खेला जो छक्के के लिए जा रहा था लेकिन तभी कॉटेरल ने एक हाथ से कैच पकड़ उनकी पारी का अंत किया।

नाथन ने हालांकि काम पूरा किया और लगातार बड़े शॉट खेलते रहे। वह अंत में शतक से चूक गए और 49वें ओवर की दूसरी गेंद पर ब्रैथवेट का शिकार बने। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर ब्रैथवेट ने मिशेल स्टार्क (8) को पवेलियन भेज दिया। बै्रथवेट ने तीन विकेट लिए। थॉमस, कॉटरेल और आंद्रे रसेल ने दो-दो विकेट झटके। होल्डर ने एक विकेट लिया।

दूसरी तरफ, वेस्टइंडीज अपनी घातक गेंदबाजी से विरोधी टीम के बल्लेबाजों पर मानों एक तरह से कहर भरपा रहे हैं। आपको बता दें कि वेस्टइंडीज ने विश्वकप में अपने पहले मैच में श्रीलंका को बुरी तरह से हराया था। इससे पहले वेस्ट इंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया।

दोनों टीमों का यह दूसरा मैच है और दोनों ही अपना पहला मुकाबला जीत चुकी है। वेस्टइंडीज ने पाकिस्तान को जबकि आस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को हराया था। वेस्टइंडीज ने इस मैच में डैरेन ब्रावो की जगह ऐविन लुइस को अंतिम एकादश में शामिल किया है। आस्ट्रेलिया ने अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया है।

इसे भी पढ़ें :

ICC World Cup 2019 : भारत ने रोहित के शानदार शतक से दक्षिण अफ्रीका को हराया

टीम :

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), क्रिस गेल, ऐविन लुइस, शिमरोन हेटमायेर, एशले नर्स, आंद्रे रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट, निकोलस पूरन, शाई होप, ओशाने थॉमस, शेल्टन कोटरेल।

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, उस्मान ख्वाजा, स्टीवन स्मिथ, ग्लैन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, एडम जाम्पा।